बतकही

blog batakahi ballia live

बतकही – कुछ और नहीं, बलिया लाइव का ब्लॉग है. यहां आप विभिन्न क्षेत्रों के लोगों की बातें सुन सकते हैं.

पत्रकारिता राष्ट्रभक्ति से युक्त होनी चाहिए -संघ

बलिया. पत्रकारिता राष्ट्रभक्ति से युक्त होनी चाहिए. पत्रकारिता समाज का आईना है, इसलिए एक पत्रकार को हमेशा निष्पक्ष होना चाहिए....

बलिया लाइव विशेष- कोरोना काल में बढ़ल गांव के लोगन के परेशानी

(मोहन सिंह, वरिष्ठ स्तंभकार)   कवनों विपति के समय लोगन के सामने कवना तरह के मुसीबत आवेला ओकर बहुत जीवंत...

मेरा गांव इन वर्षों में कितना बदल गया! वरिष्ठ पत्रकार सुरेश प्रताप की आंखोंदेखी

ग्रामीण जीवनशैली, सोच और खेत-खलिहान में आधुनिकता दबे पांव अपना पैर पसार रही है. जब उत्पादन की प्रक्रिया बदलेगी तो...

अब जब इस जज्बे की तलाश होगी तो लोग दाढ़ी के सामने नत खड़े मिलेंगे – चंचल बीएचयू

चंद्रशेखर को याद करते हुए चंचल बीएचयू बलिया से उठा, बलन्दी छू गया. ठेठ, खुद्दार, गंवई अक्स, खादी की सादगी...

पूर्व प्रधानमंत्री को कचोट गया था गौरी भईया का यूं अचानक चले जाना

अभिषेक तिवारी स्वाधीनता आंदोलनकारियों के लिए उर्वरा माटी बागी बलिया के सागरपाली की धरती पर जन्म लिए थे गौरी भईया....