जल जमाव एवं दीपावली में होने वाली आतिशबाजी से घातक हो सकता है बलिया में प्रदूषण – डा० गणेश पाठक

इस वर्ष तो बाढ़ एवं जल जमाव अपने भयंकर रूप में अपना दुष्प्रभाव दिखा रखा है. पूरा बलिया नगर ही नहीं, बल्कि जिले के प्रत्येक क्षेत्र में जल जमाव की समस्या विकट रूप धारण किए हुए है. जल जमाव से नालियां जाम होकर बजबजाने लगी हैं, कुड़ा- कचरा सड़ कर दुर्गंध देने लगा है.

शारदीय नवरात्रि की नवमी तिथि को काली मंदिर से निकले ‘लाग’ में युवाओं ने बढ़-चढ़ कर लिया हिस्सा

लाग में शामिल युवक नुकीले छड़ से अपने गलफड़ को छेदते हैं तथा एक दुसरे के गलफड में घुसे हुए छड़ को पकड़े रहते हैं. इसके बाद जुलुस की शक्ल में पूरे बाजार का भ्रमण करतें हैं तथा देवी पंडालों में मत्था टेकते हैं.

गाजीपुर सीमा पर बलिया के किसान के साथ हाथापाई

इन दिनों पूरा करईल इलाका बाढ़ व बारिश के पानी से तबाह हैं गाजीपुर जिले के भी अनेकों गांव के किसान खेतों में भारी जलजमाव को लेकर परेशान हैं पहले तो धान की फसल बर्बाद हुई अब रवि की खेती भी नहीं हो पाएगी. आलम यह है कि करईल इलाके में अभी भी सड़कों पर पानी बह रहा है. मगई नदी में मछली पकड़ने वालों ने कई जगह जाल लगा दिया है जिसके कारण पानी का निकास बहुत धीमी गति से हो रहा है इसी बात को लेकर किसानों में नाराजगी है.

बेल्थरा रोड, गड़वार और मनियर में दुर्गा पूजा की धूम

दुर्गा पूजा समिति दामोदरपुर द्वारा आयोजित मां दुर्गा पूजा के भव्य मूर्ति का अनावरण एवं पूजा का कार्य ब्राह्मण स्वयंसेवक संघ के प्रदेश महासचिव राजेश मिश्र के द्वारा संपन्न हुआ.

बलिया के लाल प्रद्युम्न ने किया कमाल, भोजपुरी सिंगिंग रियलिटी शो में हुए सेलेक्ट

प्रद्युम्न कुमार उपाध्याय पुत्र प्रभुनाथ उपाध्याय आदर्श नगर पंचायत मनियर वार्ड नंबर 7 के निवासी है. इनकी माता रंभा देवी एक गृहणी एवं पिता प्रभुनाथ उपाध्याय आदर्श नगर पंचायत मनियर के मनोनीत सभासद है. पांच भाई बहनों में प्रद्युम्न कुमार उपाध्याय चौथे नंबर पर हैं.

दुर्गोत्सव की धूम, दुर्गा पूजा कमेटियों ने श्रद्धालुओं से मास्क लगाकर पांडालों में प्रवेश करने की की अपील

मंगलवार को देवी दुर्गा का पट खुलने के बाद श्रद्धालु अगले चार दिनों तक माता की विशेष आराधना में लीन हो जायेंगे. पट खुलने के बाद श्रद्धालुओं को माता का विहंगम दर्शन प्राप्त होगा. बुधवार को महाष्टमी में माता महागौरी की पूजा के साथ श्रृंगार पूजा भी किया गया. इसी दिन मध्य रात्रि में महानिशा पूजा कर भक्त माता की विशेष अनुकंपा पाएंगे. वहीं महानवमी (गुरुवार) को सिद्धिदात्री माता का पूजा दुर्गा सप्तशती पाठ का समापन हवन पुष्पांजलि व कन्या पूजन किया जाएगा.

इब्राहिमाबाद के डेढ़ सौ एकड़ खेतों में फैला बाढ़ बरसात व सीवरेज का पानी, समस्या सुनना तो दूर झांकने भी नहीं आए जनप्रतिनिधि और अधिकारी

बुधवार को इब्राहिमाबाद गांव के पूरब कुकूरिया बाबा के स्थान पर इकट्ठा अपने खेतों को निहारते गांव के किसान, लगान पर खेती किसानी करने वाले लोग तथा खेतों में मजदूरी करने वाले काफी संख्या में कृषि मजदूर पुरुष और महिलाओं जिनमें धनंजय सिंह, हरि नारायण सिंह, ददन सिंह, सोनू सिंह, मंगल सिंह, गीता देवी, मंझरिया देवी आदि ने बताया कि पिछले तीन साल से बरसात बाढ़ व सीपेज का पानी हमारे गांव के लगभग डेढ़ सौ एकड़ खेतों में फाइल जा रहा है. इस साल और भी ज्यादा पानी बढ़ा है.

पुस्तकालय के स्थापना दिवस पर खंडकाव्य ‘ओरहन’ का काव्य पाठ

इस काव्य पाठ में राधिका, ग्वाल सखा सुखन का, गोपियों का, गाय के बछड़ों का, मधुबन आदि के ओरहन का बर्णन किया है. ओरहन श्रीकृष्ण के लिए व्यक्त किया गया है.

रास्ता विवाद को लेकर डेढ़ माह पूर्व हुई मारपीट की घटना में घायल हुए युवक की उपचार के दौरान मौत

नगरा थाना क्षेत्र के नरही के पंडितपुरा मौजे में 24 अगस्त 2021को सुबह रास्ते के विवाद में दो पक्षों में जमकर मार पीट हो गई, जिसमें दोनों पक्ष के डेढ़ दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए. मारपीट में एक पक्ष के 40 वर्षीय परमानंद को गम्भीर चोट आई थी. दोनों पक्ष थाने पर गया किन्तु आरोप है कि पुलिस परमानन्द के पक्ष को थाने से भगा दिया. वहीं दूसरे पक्ष के लोगो का मेडिकल कराने के बाद मुकदमा भी दर्ज कर ली. घायल युवक को परिजन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा ले गए, जहा चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया.

लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी जी महाराज के चतुर्मास व्रत के निमित्त श्री राम जानकी मंदिर में बैठक संपन्न

बैठक में तय हुआ कि 20 अक्टूबर को अधिक से अधिक संख्या में श्रद्धालु भक्तगण स्वामी जी को निमंत्रण पत्र देने के लिए, प्रस्तावित यज्ञ स्थल जनेश्वर मिश्र सेतु से सुबह 7 बजे चंदौली यज्ञ स्थल पर जाएंगे.

अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में जन जागरण कार्यक्रम का आयोजन

शांतिकुंज हरिद्वार सें आई टोली में डी पी सिंह, दिलथर यादव व विजेन्द्र नाथ चौबे नें संयुक्त रूप से कोरोना महामारी से बचाव, भारतीय संस्कृति, भारतीय परंपरा, पर्यावरण संरक्षण, बच्चों में संस्कार, नशा से मुक्ति, व्यक्ति निर्माण, परिवार निर्माण व समाज निर्माण आदि अनेक विषयों पर उपस्थित लोगों को जागरूक करते हुए विस्तार पुर्वक उनका मार्गदर्शन किया.

राष्ट्रनिर्माण में महात्मा गांधी एवं लालबहादुर शास्त्री का योगदान अमिट है और सदैव रहेगाः प्रो० कल्पलता पाण्डेय

विश्वविद्यालय परिसर के शैक्षणिक निदेशक डाॅ गणेश कुमार पाठक ने कहा कि गांधी जी के विचार सर्वतोमुखी रहे हैं. नारी शिक्षा, बुनियादी शिक्षा, स्वच्छता आदि पर उनके विचार आज भी प्रासंगिक हैं. यही कारण है कि सरकारें उनके विचारों को अपना रही हैं।