मोटे अनाजों की खेती करे किसान, हर तरह से लाभ मिलेगा : सांसद

सांसद ने कहा कि भृगु कैरिडोर के साथ-साथ बलिया शहर से गंगा तट तक एक पक्की सड़क बनाने का निर्णय लिया गया है. इस संबंध में दो दिनों के भीतर जिलाधिकारी के साथ बैठक कर निर्णय लिया जाएगा, कि सड़क कहां से बनाया जाए.

बलिया के 1704 किसानों को मिल रहा जैविक खेती अपनाने का लाभ , एक हेक्टेयर पर तीन साल में मिलता है 31 हजार रुपये अनुदान

प्रोजेक्ट समन्वयक ने बताया कि जैविक खेती से किसानों का आर्थिक व स्वास्थ्य संबन्धित समस्याओ का पूरी तरह समाधान हो जाएगा, किसानों को जीवामृत बीजामृत तरल कीट नाशक एवं वर्मीकम्पोस्ट बनाने के तरीको एवं उनसे होने बाले लाभों के साथ किसानों को मिलने बाले अनुदान के बारे में बताया कि जनपद के दुबहड़, बेलहरी, मुरली छपरा, बैरिया, एवं सोहाँव ब्लॉकों के 1704 किसानो को पहले साल 12 हजार दूसरे साल 10 हजार तीसरे साल 9 हजार मिलेगा।

किसान दिवस पर जिलाधिकारी ने सुनी किसानों की समस्याएं

जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसानों के यहां जो भी मीटर लगे हैं उनकी जांच कराई जाए अगर वह सही है तो उनसे किसी भी प्रकार का दबाव डालकर बिल न वसूला जाए.

सब्जी की खेती पर बाढ़ ने फेरा पानी , किसानों को पंजाब से लानी पड़ रही है परवल की लत्ती

दुबहर, बलिया। घाघरा सरयू नदी में आई बाढ़ का असर गंगा नदी पर भी दिखाई पड़ने लगा है। गंगा नदी के तटवर्ती गांव में अब …

जिला अधिकारी ने किसानों और एपिडा के अधिकारियों के साथ की बैठक

बलिया. जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में किसानों और एपिडा के अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक का उद्देश्य किसानों को सरकार द्वारा …

news update ballia live headlines

दिव्यांग पेंशन के लिए 15 सितम्बर तक आधार से लिंक और किसान 14 सितम्बर तक ईकेवाईसी अवश्य कराये

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत जनपद में अब तक कुल 67 प्रतिशत कृषकों के द्वारा ही पीएम किसान पोर्टल पर ईकेवाईसी पूर्ण कराया गया है. जनपद के अन्य समस्त लाभार्थी किसान भाईयों को सूचित करते हुए उप कृषि निदेशक इंद्राज ने बताया है कि पीएम किसान पोर्टल पर मालब 14 सितम्बर तक नही कराये तो योजना की अगली किश्त से वंचित हो जायेंगे.

बलिया: डीएम ने गुलाब की खेती करने वाले किसानों और इत्र कारीगरों से ली जानकारी

कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा आयोजित प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना “पर ड्राप मोर काप” – माइकोइरीगेशन अन्तर्गत जनपद स्तरीय क्रियान्वयन समिति (डी०एल०आई०सी०) एवं एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजनान्तर्गत जिला औद्यानिक मिशन समिति (डी०एच०एम०सी०) की बैठक आयोजित की गई.

किसान उठाएं योजना का लाभ, पहले आओ-पहले सोलर पंप पाओ

जिन कृषक बन्धुओं ने अभी तक अपनी फसलों की बुआई नहीं की है, उन सभी कृषकों को सलाह दी जाती है कि तिलहनी फसलें मुंगफली/तिल तथा दलहनी फसलें उर्द, मूंग एवं अरहर की बुआई कर सकते हैं.