बलिया लाइव खास: फूल गोभी के लिए यह है उत्तम समय, जाने कैसे होती है खेती

Ballia Live Special: This is the best time for cauliflower, know how it is cultivated
This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

बलिया लाइव खास: फूल गोभी के लिए यह है उत्तम समय, जाने कैसे होती है खेती

 

बलिया. फूल गोभी भारत वर्ष की शीतकालीन गोभी वर्गीय सब्जियों में से एक प्रमुख सब्जी है. इसकी खेती मुख्य रुप से अविकसित गठे हुए पुष्प पुंज के उत्पादन के लिए की जाती है. फूल गोभी का उपयोग सब्जी, सूप, अचार, पकौड़ा आदि बनाने में किया जाता है. इसकी सफल खेती के लिए ठड़ी एवं आर्द्र जलवायु सर्वोत्तम होती है. अच्छी फसल के लिए 15 -20 डिग्री तापमान उत्तम होता है.

Ballia Live Special: This is the best time for cauliflower, know how it is cultivated

बुवाई का समय, भूमि, खाद व उर्वरक
जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि फूल गोभी की मध्यम और पछेती किस्मों की बुवाई  अक्टूबर – नवंबर तक कर देनी चाहिए एवं अगेती 8 किस्मों का बीज 600-700 ग्राम एवं मध्यम एवं पछेती किस्मों के लिए 350-400 ग्राम प्रति हेक्टेयर बीज की आवश्यकता होती है.
बीज को स्टेप्टोसाइक्लिन का आठ लीटर पानी में घोल बनाकर 30 मिनट तक पानी में डूबाकर उपचारित करें. इसकी रोपाई में कतार से कतार एवं पौधे से पौधे की दूरी 45 से 45 सेमी और पछेती किस्मों के लिए कतार से कतार एवं पौधे से पौधे की दूरी 60 से 45 सेमी रखनी चाहिए.

फूल गोभी की अच्छी उपज प्राप्त करने के लिए बलुई दोमट भूमि उत्तम होती है, जिसमें जीवांश की प्रचुर मात्रा उपलब्ध हो. रोपाई से पूर्व खेत की जुताई कर समतल कर देना चाहिए. उपरोक्त खेती के लिए 200-250 क्विंटल सड़ी हुई गोबर खाद रोपाई के लगभग एक माह पूर्व अच्छी तरह मिला देना चाहिए.

Ballia Live Special: This is the best time for cauliflower, know how it is cultivated

क्या क्या डालना है जरूरी
इसके अतिरिक्त नाइट्रोजन, फास्फोरस एवं पोटाश की क्रमश: 120, 60 एवं 40 किग्रा प्रति हेक्टेयर की दर से देना चाहिए. नाइट्रोजन की एक तिहाई एवं फास्फोरस, पोटाश की पूरी मात्रा अंतिम जुताई से पहले खेत में मिला देना चाहिए. शेष नाइट्रोजन की आधी मात्रा दो बराबर भागों में 30 और 45 दिन बाद देनी चाहिए. इसके अतिरिक्त सूक्ष्म तत्वों बोरोन 10 से 15 किग्रा प्रति हेक्टेयर एवं मॉलीब्डेनम की मात्रा एवं 1 से 1.5 किग्रा प्रति हेक्टेयर दर से मिट्टी में मिला देना चाहिए.

 

अब बलिया की ब्रेकिंग न्यूज और बाकी सभी अपडेट के लिए बलिया लाइव का Whatsapp चैनल FOLLOW/JOIN करें – नीचे दिये गये लिंक को आप टैप/क्लिक कर सकते हैं.
https://whatsapp.com/channel/0029VaADFuSGZNCt0RJ9VN2v

आप QR कोड स्कैन करके भी बलिया लाइव का Whatsapp चैनल FOLLOW/JOIN कर सकते हैं.

ballia live whatsapp channel

Breaking News और बलिया की तमाम खबरों के लिए आप सीधे हमारी वेबसाइट विजिट कर सकते हैं.

Website: https://ballialive.in/
Facebook: https://www.facebook.com/BalliaLIVE
X (Twitter): https://twitter.com/ballialive_
Instagram: https://www.instagram.com/ballialive/