जन अधिकार पार्टी के तत्वावधान में पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक भाईचारा सम्मेलन का विशाल आयोजन

सिकंदरपुर, बलिया. क्षेत्र के चेतन किशोर खेल के मैदान में रविवार को जन अधिकार पार्टी के तत्वावधान में पिछड़ा दलित अल्पसंख्यक भाईचारा सम्मेलन का विशाल आयोजन किया गया.

 

रविवार की सुबह से ही आयोजित सम्मेलन मे लोग दुपहिया व चारपहिया वाहनों के बड़े बड़े काफिले के रूप में लोग जुटना शुरू हो गए थे. इस दौरान मुख्य बस स्टैण्ड चौराहा, जलालीपुर चट्टी व सभा स्थल के आसपास कई बार भारी जाम की भी स्थिति उत्पन्न हो गई.

मुख्य अतिथि के रूप में आयोजित सम्मेलन मे एक घंटें बिलंब से पहुंचे जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व कैबिनेट मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा सभा स्थल पर हजारों की संख्या मे पहुंचे पुरूष, महिला, युवाओं व पार्टी कार्यकर्ताओं से खचाखच भरें चेतन किशोर खेल का मैदान देखकर बहुत खुश व गदगद नजर आए.

मंच पर मुख्य अतिथि बाबू सिंह कुशवाहा व विशिष्ठ अतिथियों का स्थानीय पार्टी पदाधिकारियों नें फूल माला पहनाकर व स्मृति चिन्ह देकर गर्मजोशी के साथ स्वागत किया.

इस बीच मण्डल प्रभारी आजमगढ़ दिनेश शर्मा, प्रदेश महासचिव युवा प्रकोष्ठ व प्रभारी सिकन्दरपुर अशोक कुमार मौर्य, आजमगढ़ मंडल उपाध्यक्ष विश्राम वर्मा व विद्यासागर वर्मा द्वारा संयुक्त रूप से मुख्य अतिथि को चांदी का मुकुट व तलवार भेंट कर सम्मानित किया. समारोह को संबोधित करते हुए बाबू सिंह कुशवाहा नें भारतीय जनता पार्टी की सरकार व उनकी नीतियों पर जमकर अपनी भड़ास निकाला. कहां कि इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य पिछड़ों, दलितों, गरीबों एवं अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को उनके हक एवं अधिकारों के प्रति जागरूक करना है. अब वक्त आ गया है की हम अपने अधिकारों के प्रति जागरूक बने तभी जाकर पिछड़ों, दलितों, गरीबों एवं अल्पसंख्यकों का उनका हक मिलेगा. कहा कि हर हाल में हमें यह लड़ाई जितनी है और हम जीतेंगे भी. क्योंकि यह लड़ाई गरीबों और मजलूमों के हक और अधिकार की लड़ाई है. कहा कि संविधान लागू होने के 71 वर्ष बाद भी पिछड़ों, अति पिछड़े वर्गों, अति दलितों, अल्पसंख्यको, शोषितो व वंचितों को देश के किसी भी क्षेत्रों में हिस्सेदारी नहीं मिल सकी है. इसके अतिरिक्त बेतहासा बढ़ती महंगाई उच्चतम स्तर पर चल रही बेरोजगारी, निजीकरण, सरकारी संस्थाओं को खोज खोज कर बेचना, भेदभाव की नीति, नए श्रम कानून व बिजली कानून से आम जनता का जीना मुहाल कर दिया है. आवारा जानवरों और एमएसपी पर लिखित गारंटी कानून न होने की वजह से किसानों की फसलों एवं आय पर बुरा प्रभाव डाला है. कहा की इस भाजपा की सरकार में मजदूरों, किसानों, पिछड़ों, दलितों, गरीबों, अल्पसंख्यकों व हमारी बहन बेटियों के साथ कैसा दुर्व्यवहार हो रहा हैं। यह किसी से छिपा नहीं हैं. इस सरकार में गरीबों, मजलूमों व हमारी बहन बेटियों को न्याय मिलना मुश्किल हो गया है. अपने संबोधन में बहुजन समाज पार्टी को इंगित करते हुए मुख्य अतिथि बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा कि हमनें बहुत सारे साथियों के साथ बसपा में लंबे समय तक काम किया. क्योंकि उस समय बसपा मान्यवर कांशी राम के सिद्धांतों और विचारों पर चलती थी. पर आज की बसपा कांशी राम के सिद्धांतों और विचारों से भटक गई है. इसके बावजूद भी हमारे बहुत सारे साथी आज के समय में उहापोह की स्थिति में है. मैं उनसे कहना चाहता हूं कि वह हमारी जन अधिकार पार्टी के साथ आए और हमारे हाथों को मजबूत करें.

अपने भाषण के दौरान मुख्य अतिथि ने विभिन्न मुद्दों पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा. समारोह को संबोधित करते हुए अन्य वक्ताओं ने भी जन अधिकार पार्टी के एजेंडे व वर्तमान योगी सरकार की खामियों पर विस्तार सें प्रकाश डालतें हुए आने वाले विधानसभा चुनाव में योगी सरकार को प्रदेश से उखाड़ फेंकने व जन अधिकार पार्टी की झोली में ज्यादा से ज्यादा सीटें जिताने का आह्वान किया.

समारोह मे मुख्य रूप से राष्ट्रीय महासचिव सुषमा मौर्य, राष्ट्रीय सचिव हरपाल प्रजापति, प्रदेश अध्यक्ष यूपी रमेश चंद्र निषाद, प्रदेश महासचिव राजेंद्र पाल, प्रदेश सचिव नसीम खान, पंकज मनु विश्वकर्मा, रानी सिंह कुशवाहा, राकेश सिंह कुशवाहा, संजय मौर्य समेत हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहें. समारोह की अध्यक्षता जिला प्रभारी बलिया संजय भाई व संचालन विश्राम मौर्य नें किया.

सिकंदरपुर से संवाददाता संतोष शर्मा की रिपोर्ट)

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.