भ्रूण हत्या समाज के लिए महापाप : रामजी दास महाराज

बढ़ती भ्रूण हत्या समाज के लिए अभिशाप है.इसे रोकना समाज के सभी लोगों का कर्तव्य है. यह बात बक्सर से आये रामजी दास महाराज ने प्रवचन के दौरान कही.

रसड़ा: आधुनिक युग में बढ़ती भ्रूण हत्या की घटनाएं समाज के लिए अभिशाप है. आने वाले समय में इसका समाज पर बुरा प्रभाव पड़ेगा. उक्त बातें बक्सर बिहार से पधारे श्रीरामजी दास महाराज ने अपने प्रवचनों के दौरान कही.

वह लखनेश्वरडीह के श्रीहरि विष्णु भगवान मंदिर प्रांगण में श्री तुलसी शालिग्राम विवाह महोत्सव में श्री सीताराम कथा में प्रवचन कर रहे थे. उन्होंने कहा कि लड़कियां समाज के दो कुलों को का भला करती हैं.

उन्होंने कहा कि अकाल के बहाने माता जानकी का जन्म राजा जनक के घर हुआ. उन्होंने अपने पिता जनक और श्वसुर राजा दशरथ के कुलों का नाम रोशन किया. भ्रूण हत्या को रोकना समाज के सभी लोगों का कर्तव्य है.

अंत में आरती पूजन के बाद श्रद्धालुओं में प्रसाद वितरण किया गया. कथा के संयोजक मंदिर के पुजारी दीनदयाल दास जी महाराज ने सभी का आभार प्रकट किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.