News Shorts: बलिया में 6 जून को रोजगार मेले का आयोजन, मनियर में 12वाहनों का चालान

मनियर पुलिस ने वाहन स्वामियों के विरुद्ध बड़ी कार्यवाही की है. सीओ बांसडीह राजेश कुमार तिवारी के निर्देश पर मनियर पुलिस ने मंगलवार की देर शाम रोड पर खडी़ करीब एक दर्जन वाहनों का चालान काटा एवं तीन वाहनों की सीज कर दिया जिसको लेकर वाहन स्वामियों में हड़कंप मच गया.

मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने बारिश से फसलों को हुए नुकसान का लिया जायजा, कहा मुआवजा दिलाने का प्रयास करेंगे

मंत्री ने आश्वासन देते हुए कहा कि जल्द से जल्द किसानों के हुए नुकसान का आकलन कर मुआवजा दिलाने तथा इस क्षेत्र में जल निकासी का स्थाई समाधान कराने का प्रयास करूंगा.

बारिश से किसानों को भारी नुकसान, किसान चिंतित

इस वर्ष समय-समय पर बरसात होते जाने से धान की फसल काफी अच्छी थी, किन्तु जब धान में बालि लगने लगी और बालियों में फूल के साथ दाना पड़ने लगा, तभी तेज हवा चलने तथा भारी बारिश होने से धान की बालियों में लगे फूल झड़ गये और धान की पकी फसल पानी भरे खेत में गिर गई है.

गड़हांचल के करईल इलाके में किसान बाढ़ व बारिश के पानी से परेशान

बाढ़ का पानी नदियों में अब तेजी से उतर रहा है और मानसून ने अलविदा कह दिया हो लेकिन पूरा करईल इलाका आज भी बाढ़ व बारिश के पानी से कराह रहा है इन किसानों का कोई सुध लेने वाला भी नहीं है.

लगातार बारिश से नगरा में सड़कों और गलियों में भारी जलजमाव, नगर पंचायत के कार्यों पर उठ रहे सवाल

नगर पंचायत ने कुछ जगहों पर साफ-सफाई की खानापूर्ति करते हुए जिम्मेदारी से इतिश्री कर ली

समाजवादी पार्टी ने कहा भारी बारिश से किसानों को भारी नुकसान, आपदा फसल बीमा के तहत मदद दे सरकार

समाजवादी पार्टी के जिला प्रवक्ता सुशील कुमार पाण्डेय “कान्हजी” ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि भाजपा किसानों की उपेक्षा और पूंजीपति घरानों का पोषण करती आई है.

बारिश में मिट्टी की दीवार भरभरा कर गिरी, एक महिला की मौत, दो घायल

रसड़ा, बलिया. लगातार हो रही बारिश की वजह से मिट्टी की दीवार गिर गई, जिसके मलवे में दबकर एक महिला की मौत हो गई. वहीं, दो …

नगरा में बारिश ने खोली जलनिकासी की पोल, सड़कों पर जलजमाव और कीचड़ से लोग परेशान

नगरा, बलिया. नगरा को नगर पंचायत का दर्जा तो मिल गया लेकिन नगरावासियों की दुश्वारियां कम होने का नाम ही नहीं ले रहीं हैं. बरसात …

शुरूआती बारिश में ही खुली तैयारियों की पोल, सड़कों पर भरा पानी, लोगों को परेशानी

नगरा, बलिया. लगभग एक सप्ताह से हो रही बारिश ने लोगों की परेशानी का बढ़ा दी है. शनिवार को आधी रात से शुरू हुई बारिश …

पुरवइया के झोकों के साथ बलिया में भी हुआ मानसून पूर्व बादलों का आगमन

अमरनाथ मिश्र स्नातकोत्तर महाविद्यालय दूबेछपरा, बलिया के पूर्व प्राचार्य एवं भूगोलविद् डा० गणेश पाठक ने एक भेंटवार्ता में बताया कि मानसून पूर्व बादलों एवं वर्षा …

अब यों ही बदलता रहेगा मौसम का मिजाज- डा०-गणेश पाठक, पर्यावरणविद

मई और जून के महीने में बलिया में जिस तरह का मौसम दिखाई दे रहा है उसने सभी को हैरान कर दिया है। भयंकर आँधी- …

बांसडीह तहसील में सपाइयों का प्रदर्शन, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

सपा का आरोप, लॉकडाउन में गलत नीतियों के कारण छात्र, नौजवान, किसान, सहित आमलोग परेशान व बेहाल

बारिश के बाद जलजमाव का जायजा लेने शहर में निकले डीएम

जिला जेल, श्रीराम विहार, आवास विकास कॉलोनी व काजीपुरा का लिया जायजा, कहा, पूरी गंभीरता से जलनिकासी पर हो पूरा ध्यान, पम्पिंग सेट की रखें व्यवस्था

जिला जेल का निरीक्षण, जलजमाव के स्थायी समाधान पर चर्चा

डीएम श्रीह​रि प्रताप शाही व एसपी देवेंद्र नाथ ने जांची व्यवस्था, दवाओं का छिड़काव व साफ—सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश

सरयू खतरा बिंदु को छूने को बेताब, हजारों एकड़ उपजाऊ जमीन नदी में विलीन

देवपुर रेगुलेटर के फाटक के झरोखे से होकर निकलता पानी दक्षिणी क्षेत्र की उपजाऊ भूमि की ओर फैल गया है

होत फजीरे शुरू हुई झमाझम बारिश, देखते ही देखते उतराए नजर आने लगे मुहल्ले

आकाशीय बिजली गिरने से किसान की मौत, पुलिस लाइन व वीर लोरिक स्टेडियम तो पानी से लबालब

जलजमाव से आजिज लोगों ने रास्ते में धान रोप जताया विरोध

मोहल्ला चांदनी चौक निवासी नाहिद हुसैन ने बताया कि थोड़ी सी बारिश से ही चौक के चारों तरफ भारी जलभराव हो गया है.

डीएम ने कहा, बरसात में नालों का बहाव सही रहे

बरसात में कहीं जलजमाव की समस्या ना हो, इसको लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है. जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही का इस बात पर विशेष जोर है कि नालों का बहाव सही रहे. इसी के दृष्टिगत उन्होंने शनिवार को बेदुआ से लेकर शनिचरी मंदिर, दुर्गा मंदिर होकर जापलिंगंज, एससी कालेज व काजीपुरा क्रासिंग तक गए और नालों में बहाव की स्थिति देखी.

बलिया समेत पूरे पूर्वांचल में इस साल अच्छी बारिश के आसार

वाराणसी में गंगा एवं वरुणा किनारे बसे लोगों की धुकधुकी बढ़ गई है. हालांकि प्रयागराज, मिर्जापुर, फाफामऊ, बलिया और गाजीपुर में गंगा स्थिर हैं.