Front Page: न्यूज अपडेट, ब्रेकिंग न्यूज और लाइव ब्लॉग

नमस्कार! बलिया लाइव Front Page में आप सभी का स्वागत है – न्यूज अपडेट, ब्रेकिंग न्यूज और लाइव ब्लॉग सहित जिला जवार से लेकर बलिया के आस पास और बहरवासुओं के मतलब की खास खास खबरों के लिए जब भी मौका मिले ballialive.in विजिट करें.

BREAKING NEWS

 

CRIME DIARY

  • महिला ने खाया जहर इलाज के दौरान हुई मौत  [पूरी खबर यहां पढ़ें
  • कोर्ट के स्थगन आदेश के बावजूद बुलडोजर से दो दुकानों को किया जमींदोज  [पूरी खबर यहां पढ़ें] 

NEWS SHORTS  

  • नर सेवा नारायण सेवा- स्वामी विवेकानंद
    बलिया. युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद जी की जयंती राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, बलिया नगर द्वारा राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में गुरुवार 12 जनवरी 2023 को अपरान्ह 3 बजे भृगुजी मंदिर के प्राँगढ़ में बड़े उत्साह के साथ स्वयंसेवकों द्वारा पूर्ण गणवेश में एकत्रीकरण कर मनाया गया. इस अवसर पर स्वामीजी के कृतित्व और व्यक्तित्व को याद किया गया. ‘नर सेवा नारायण सेवा’ का मन्त्र देने वाले स्वामी विवेकानंद जी की आज 160वीं जयंती थी.
    सर्वप्रथम मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बलिया के जिला बैद्धिक शिक्षण प्रमुख डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय, मा.सह जिला संघचालक डॉ. विनोद जी, मा. सह नगर संघचालक परमेश्वरनश्री जी द्वारा भारत माता, पूज्य स्वामी विवेकानन्द, पूज्य डॉक्टर केशवराम बलिराम हेडगेवार व पूज्य श्रीगुरुजी माधवराव सदाशिवराव गोलवलकर के चित्र पर पुष्पार्चन कर व दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया .
    अपने सम्बोधन में मुख्य वक्ता डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय जी ने स्वामी विवेकानंद जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए
    कहा कि युग प्रवर्तक स्वामी जी ने भारतीय संस्कार, संस्कृति को भारत के गुलामी काल में भी शिकागो के विश्व धर्म सम्मेलन में अपने प्रखर व ओजस्वी वचनों से भारत की पहचान स्थापित की थी. हर साल 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जयंती मनाई जाती है. इस दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है स्वामी विवेकानंद बहुत कम उम्र में ही संन्यासी बन गए थे. पश्चिमी देशों को योग-वेदांत की शिक्षा से अवगत कराने का श्रेय स्वामी जी को ही जाता है. स्वामी विवेकानंद ने 19वीं शताब्दी के अंत में विश्व मंच पर हिंदू धर्म को एक मजबूत पहचान दिलाई थी. बहुत कम उम्र में ही उनका झुकाव अध्यात्म की तरफ हो गया था .
    बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट
  • स्वामी विवेकानंद के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर हुई चर्चा
    बैरिया , बलिया.राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, अमरनाथ मिश्र स्नातकोत्तर महाविद्यालय दूबे छपरा, बलिया में गुरुवार को स्वामी विवेकानन्द जी की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाई गई. सर्वप्रथम सभी स्वयंसेवियों, छात्र और छात्राओं द्वारा ज्ञान देवी मां सरस्वती जी के चित्र पर माल्यार्पण किया. इसके बाद स्वामी जी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया. तदुपरांत स्वतंत्रता सेनानी पंडित अमरनाथ मिश्र की आदमकद प्रतिमा की सफाई कर माल्यार्पण किया गया. इसके बाद एक गोष्ठी का आयोजन किया गया,जिसका शीर्षक था ” स्वामी विवेकानंद जी का व्यक्तित्व और कृतित्व” .गोष्ठी में विषय प्रवर्तन और संचालन करते हुए राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी संजय मिश्र ने स्वामी जी व्यक्तित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला.इन्होंने कहा कि कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का व्यक्तित्व बहुआयामी था.
    स्वामी जी पूर्व तथा पश्चिम विज्ञान तथा धर्म में अनुपम समन्वय करते हुए वेदांत के आदर्शों को विश्व फलक पर स्थापित किया. स्वामी जी का संबोधन पूरी मानव जाति के लिए था.भूगोल विषय के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ भगवान जी चौबे ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी ने युवाओं के लिए आत्मनियंत्रण की बात की है.भूगोल विषय के ही डॉक्टर अजीत यादव ने कहा कि स्वामी जी युवाओं में विचलन रोककर युवा शक्ति को राष्ट्र निर्माण में लगाना चाहते थे. समाज शास्त्र के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ सिद्धार्थ कुमार ने विद्यार्थियों को विनम्र रहते हुए ज्ञानार्जन करने की अपील की. हिंदी के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ अमित कुमार राय ने कहा की स्वामी विवेकानंद जी ने तीस वर्ष की आयु में ही शिकांगो में हिंदू धर्म और संस्कृति का परचम फहरा दिया. स्वयंसेवियों आर्यन मिश्र,राहुल पांडे, रविशंकर,विवेक सिंह,शक्ति सिंह तथा प्रियांशु यादव ने भी अपने अपने विचार रखे. इस अवसर पर डॉक्टर गीता जी,डॉक्टर ऋषि विवेक धर ,डॉक्टर उमेश यादव, डा.इंद्रजीत चौधरी डॉक्टर परमानंद पांडेय, विजय यादव,रविंद्र ठाकुर तथा योगेंद्र शाह इत्यादि उपस्थित रहे.
    बैरिया से शशि सिंह की रिपोर्ट
  • मथौली बाबा क्रिकेट प्रतियोगित का फाइनल  [पूरी खबर यहां पढ़ें
  • आखार गांव की टीम रही विजेता  [पूरी खबर यहां पढ़ें
  • आशा कार्यकत्री को किया जा चुका है निष्कासित: प्रभारी चिकित्साधिकारी
    बलिया: जनपद के विकास खण्ड- रसड़ा के ग्राम मुंडेरा की निष्कासित आशा कार्यकत्री रागिनी सिंह द्वारा 07 जनवरी 2023 को सीएचसी परिसर में धरना प्रदर्शन के बाबत प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सराय भारती ने बताया कि रागिनी सिंह को अपने कार्य एवं दायित्वों का निर्वहन न करने तथा अपने नियंत्रक/उच्च अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार किये जाने की शिकायत पर मुख्य चिकित्साधिकारी, बलिया के स्तर से त्रिसदस्यीय जाँच समिति गठित की गई.जांच समिति की आख्या के आधार पर सीएमओ के निर्देश पर श्रीमती सिंह को सेवा से निष्कासित किया जा चुका है.
    उच्च अधिकारी के साथ दुर्व्यवहार किये जाने के विरूद्ध रसड़ा कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज किया जा चुका है, जिसमें पुलिस की ओर से न्यायालय में चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है. श्रीमती रागिनी सिंह से कोई भी कार्य न लिये जाने सम्बन्धी ग्राम पंचायत मुंडेरा के ग्राम प्रधान/अध्यक्ष ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समिति को पत्र भेजा जा चुका है.
    बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट