मोटे अनाजों की खेती करे किसान, हर तरह से लाभ मिलेगा : सांसद

बैरिया, बलिया. किसानों को मोटे अनाज के पैदावार के प्रति जागरूक होना चाहिए। अगला वित्तीय वर्ष मोटे अनाजों के उत्पादन के लिए सरकार द्वारा समर्पित किया जाएगा। यह उद्गार सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के हैं। जो बुधवार को सोनबरसा स्थित अपने संसदीय कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

 

उन्होंने कहा कि मोटे अनाज स्वास्थ्य के साथ-साथ किसानों को आर्थिक स्वालंबन भी अधिक देगा। क्योंकि मोटे अनाज का मूल्य बाजार में बढ़ चुका है। उन्होंने बाजरा, मक्का, सांवा, टागुंन, ज्वार,मड़ुआ ,कोदो,जौ,चना आदि फसलों की चर्चा करते हुए उसके उपयोग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ व उसके बाजार में अच्छे मूल्य मिलने की बात पत्रकारों को बताई।

 

सांसद ने कहा कि भृगु कैरिडोर के साथ-साथ बलिया शहर से गंगा तट तक एक पक्की सड़क बनाने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में दो दिनों के भीतर जिलाधिकारी के साथ बैठक कर निर्णय लिया जाएगा, कि सड़क कहां से बनाया जाए।

 

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

उन्होंने कहा कि मैंने अनुभव किया है कि गंगा तट तक जाने में शहर के लोगों को परेशानी हो रही है। इसलिए पक्की सड़क गंगा तट तक होनी चाहिए। वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि भृगु कैरीडोर के संबंध में लोगों से राय मशविरा किया जा चुका है। जल्दी इस को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

 

उन्होंने लालगंज के निकट जल्द ही 33/11 केवीए के विद्युत उप केंद्र के निर्माण की घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ने इसके लिए स्वीकृति दे दी है। सांसद ने अन्य विकास कार्यो पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए कहा आज ही मैं गुजरात से लौटा हूं। हमारी सरकार गुजरात में एक बार फिर बन रही है। वहीं दिल्ली में एमसीडी का चुनाव हम लोग फिर जीत रहे हैं। बलिया में करीब पन्द्रह सौ करोड़ की सड़कें प्रस्तावित है। मैंने अधिकारियों से कहा है ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का तत्काल कार्य शुरू कराया जाए।

(बैरिया संवाददाता वीरेंद्र मिश्र की रिपोर्ट)

 

Click Here To Open/Close