बलिया में छात्र संघ चुनाव की मांग को लेकर छात्र महापंचायत का आयोजन, आंदोलन उग्र करने का लिया निर्णय

बलिया. बलिया में छात्र संघ चुनाव की मांग को लेकर शनिवार को टीडी कॉलेज परिसर में छात्र महापंचायत का आयोजन किया गया।

 

इस महापंचायत छात्रों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। उन्होंने एक स्वर छात्र संघ चुनाव कराने के लिए चल रहे आंदोलन को उग्र करने का निर्णय लिया। वरिष्ठ छात्र नेता रणवीर सिंह सेंगर व जैनेंद्र पांडेय मिंटू ने कहा कि अब वक्त आ गया है, छात्र संघ चुनाव के लिए जिला प्रशासन से आर-पार की लडाई लड़ी जाए। अब करो या मरो का समय आ गया है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि छात्र कई दिनों से सड़कों पर आंदोलित हैं।

टीडी कॉलेज के पूर्व अध्यक्ष राजेश सिंह प्रिंस और छात्र नेता प्रशांत राय बंटी कहा कि जिला प्रशासन की सुस्ती समझ से परे है। छात्र संघ चुनाव के विषय पर सरकार ने सदन में भी अपनी मंशा साफ कर दी है की प्रदेश में कही भी छात्र संघ चुनाव पर रोक नहीं है। आलोक सिंह कुंवर व पूर्व अध्यक्ष रोहित चौबे ने कहा कि यह लोकतंत्र की नर्सरी को उजाड़ने का प्रयास है। हर संघर्ष की कीमत अदा कर हम छात्र संघ का हक लेकर रहेंगे।

लोकतांत्रिक मूल्यों पर कुठाराघात
भारत दुनिया की सबसे स्वस्थ व संविधानिक मूल्यों पर आधारित लोकतांत्रिक गणराज्य है। इसी क्रम मे बलिया जनपद समेत प्रदेश के कई विश्वविद्यालयों में भी छात्र संघ चुनाव कराने हेतु छात्र कई दिनों से आंदोलित है, लेकिन इस प्रदेश की बेलगाम नौकरशाही इन आंदोलन के प्रति तनिक भी गंभीरता नही दिखा रही। जो की सीधे तौर पर लोकतांत्रिक मूल्यों व जन अधिकारों पर कुठाराघात है।

इस मौके पर वरिष्ठ छात्र नेता धनंजय सिंह विशेन, पूर्व अध्यक्ष शिप्रांत सिंह, पूर्व अध्यक्ष अजय यादव, पूर्व अध्यक्ष नितेश यादव, महामन्त्री आशुतोष ओझा, पूर्व महामन्त्री प्रशांत पांडेय, महामन्त्री अमित सिंह,विकाश गुप्ता विक्की, बृजेश यादव, सूरज यादव, सिन्टू यादव व तमाम छात्र नेता मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन प्रवीण सिंह ने किया।