जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा

बलिया: जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को हुई. इसमें स्वास्थ्य विभाग की जन कल्याणकारी योजनाओं की गहन समीक्षा की गई.

 

जिलाधिकारी ने कहा कि जननी सुरक्षा योजना, टीकाकरण कार्यक्रम व अन्य स्वास्थ्य से जुड़े महत्वपूर्ण कार्यक्रमों का क्रियान्वयन पूरी पारदर्शी तरीके से हो. कहा कि जननी सुरक्षा योजना की धनराशि हर पात्र महिला को समय से भेज दी जाए. किसी भी स्तर पर लापरवाही की शिकायत मिली तो उसे गंभीरता से लिया जाएगा.

 

जिलाधिकारी ने इस बात पर जोर दिया कि अधिक से अधिक प्रसव सरकारी अस्पताल में ही हो. इसके लिए आशा बहू गांव में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन ठीक ढंग से करें, ताकि हर महिला को सरकारी सुविधाओं का लाभ मिल सके.

 

चिलकहर में सरकारी अस्पताल में काफी कम डिलीवरी होने पर उन्होंने संबंधित चिकित्सा अधिकारी व आशा बहुओं से सवाल भी किया. उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं के हिमोग्लोबिन अनिवार्य रूप से चेक कराया जाए. राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, दस्तक और संचारी रोग नियंत्रण अभियान आदि की भी समीक्षा की. सीडीओ प्रवीण वर्मा, सीएमओ डॉ जयंत कुमार सहित अन्य स्वास्थ्य के स्टाफ मौजूद थे.

 

आशा बहुओं के साथ अलग से की बैठक

जिलाधिकारी ने आशा बहुओं के साथ अलग से बैठक की और स्पष्ट किया कि कामकाज में जिन आशा बहुओं की लापरवाही मिलेगी, उनको तत्काल हटा दिया जाएगा. हर आशा बहू अपने क्षेत्र में गर्भवती महिलाओं को चिन्हित करते हुए उनको सरकार की ओर से मिलने वाली हर सुविधा का लाभ दिलाना सुनिश्चित कराएं.

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट)