यूपीटीईटी रद्द होने पर अभ्यर्थियों से शांति की अपील, दोबारा परीक्षा होने पर नहीं लिया जाएगा कोई शुल्क

बलिया.रविवार को होने वाली यूपी टीईटी रद्द कर दी गई. उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का प्रश्न पत्र व्हाट्सएप पर लीक होने के कारण यह निर्णय लिया गया.

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय कुमार उपाध्याय ने अभ्यर्थियों से शांति व्यवस्था बनाने की अपील की है. दोबारा परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों से नहीं लिया जाएगा कोई परीक्षा शुल्क, नई तिथि जल्द होगी घोषित.

प्राइमरी संवर्ग की परीक्षा रविवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक तथा जूनियर संवर्ग की परीक्षा दोपहर 12:30 बजे से सायं 5 बजे तक होनी थी. पेपर लीक होने के बाद एसटीफ ने प्रदेश भर में छापेमारी की. प्रदेश सरकार ने परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया है. परीक्षा की नई तिथि की घोषणा शीघ्र की जाएगी. परीक्षा अगले माह होने की संभावना है. विभागीय सूत्रों की माने तो अगली परीक्षा के लिए परीक्षार्थियों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा.

जिला विद्यालय निरीक्षक बृजेश मिश्रा ने बताया कि परीक्षा दो पालियों में होनी थी. जनपद में 42 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे. सुबह प्राइमरी संवर्ग तथा सायं काल जूनियर की परीक्षा होनी थी. परीक्षा प्रारंभ होने के तुरंत बाद पेपर आउट होने की सूचना मिली और परीक्षा रद्द कर दी गई. जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि प्राइमरी संवर्ग में परीक्षा के लिए 25 हजार 584 परीक्षार्थी कथा जूनियर संवर्ग की परीक्षा के लिए 16075 परीक्षार्थी पंजीकृत किए गए थे. जनपद को 21 सेक्टर में तथा 4 जोन में बाटा गया था. जनपद के सभी 42 परीक्षा केंद्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए थे. परीक्षा केंद्र के आसपास सभी साइबर कैफे तथा फोटोस्टेट की दुकानें बंद करा दी गई थी. परीक्षा केंद्र पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। शहीद मंगल पांडे राजकीय महिला महाविद्यालय में परीक्षा केंद्र के बाहर दुबहर थानाध्यक्ष आरके सिंह स्वयं सुरक्षा की कमान संभाले हुए थे. शहीद मंगल पांडे इंटर कॉलेज को भी परीक्षा केंद्र बनाया गया था.

(बलिया से कृष्णकांत पाठक की रिपोर्ट)

 

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.