गंगा दशहरा के दिन नहाने गए छह लोग डूबे, तीन के शव बरामद

बलिया/गाजीपुर। सोमवार को गंगा दशहरा के दिन नहाने गए छह लोग गाजीपुर और बलिया में गंगा में डूब गए. गाजीपुर में तीनों के शव तो बरामद हो गए हैं. बलिया में अभी डूबे तीन बच्चों की तलाश खबर लिखे जाने तक जारी थी. इसी क्रम में रविवार को दलछपरा कुण्ड में डूबे युवक का शव बरामद कर लिया गया.

बलिया में अलग-अलग स्नान घाटों पर नहाने पहुंचे दो किशोर और एक मासूम गंगा में डूब गए. फेफना थाना क्षेत्र के माल्देपुर संगम घाट पर सोमवार की सुबह गंगा दशहरा के मौके पर गंगा स्नान के दौरान अंकुश (14) पुत्र त्रिलोकी गोंड और गोलू (15) पुत्र विजेंद्र राजभर निवासी निधरिया डूब गए. दूसरी तरफ हल्दी थाना क्षेत्र के पचरुखिया घाट पर दादी के साथ नहाने गया 7 साल का प्रिंस पटेल भी डूब गया. इन तीनों की तलाशी में गोताखोर और पुलिस जुटी है.

रेवती में डूबे युवक का शव बरामद

उधर, रेवती थाना क्षेत्र के दलछपरा गांव में मवेशी चराने गया एक युवक दलछपरा कुण्ड में स्नान करते समय डूब गया था. बताया जाता है कि दलछपरा गांव निवासी संदीप यादव (18) पुत्र विनोद यादव अपने मवेशियों को चराने के लिए गया था. इस दौरान गांव स्थित कुण्ड में स्नान करते समय डूब गया. विलंब होने पर परिवार के लोग उसकी तलाशी में जुटे थे. इसी दौरान कुण्ड के किनारे उसके कपड़े और चप्पल देख उसके डूबने की आशंका हुई. गांव वालों ने इसकी सूचना 112 नं पर पुलिस को दी. सूचना मिलते ही हलका इंचार्ज सूर्यकांत पांडेय, एसआई गजेंद्र राय, कांस्टेबल जेपी कनौजिया, मौके पर पहुंच शव की तलाश जाल डलवाकर करवाना शुरू किए. घंटों मुशक्कत के बाद सोमवार को गोताखोरों ने शव को तालाब से बाहर निकाला. पुलिस ने शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए बलिया भिजवा दिया.

गाजीपुर में तीन भाइयों की डूबने से मौत

इसी क्रम में गाजीपुर जिले के छोटा महादेव घाट पर सोमवार को गंगा दशहरा के मौके पर गंगा स्नान के लिए गए दो सगे भाइयों के साथ एक चचेरे भाई की डूबने से मौत हो गई. घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शवों को नदी से निकलवाया. गाजीपुर शहर कोतवाली के मोहनपुरवा में रहले वाले सुरेंद्र कश्यप के बड़े बेटे सौरभ (15) के साथ छोटा बेटा शिवम (13) तथा अपने चचेरे भाई चुन्ना (18) सहित अन्य लड़कों के साथ गंगा में स्नान करने गया था. शिवम अचानक गहरे पानी में जाकर डूबने लगा तो उसको बचाने में सौरभ और चुन्ना की भी डूबकर मौत हो गई.

करेंट की जद में आने से विवाहिता की मौत

रसड़ा (बलिया)। कोतवाली क्षेत्र के नीबू कबीरपुर में सोमवार की सुबह करेन्ट की जद में आने से 55 वर्षीय महिला झुलस गयी. आनन फानन में परिजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाए, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. इस खबर से गांव में शोक की लहर दौड़ गयी, वहीं परिजनों में कोहराम मच गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुन्नी देवी (55 वर्ष) पत्नी रामअधार वर्मा दरवाजे पर झाड़ू लगा रही थी. इस दौरान गाय के लिए लगे पंखे की तार की जद में वह आ गयी. परिजनों को मुन्नी देवी तार के पास ही जमीन पर गिरी मिलीं. परिजन आनन फानन में उन्हें अस्पताल पहुंचाए, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. मुन्नी के दो पुत्र रितेश और सतीश हैं, एक बेटी भी है, जिसकी शादी हो चुकी है.

Comments (1)

  • Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.