Central Desk November 12, 2019

बलिया से कृष्णकांत पाठक की रिपोर्ट

दुबहर : कार्तिक पूर्णिमा पर गंगा नहाने गया किशोर फिसलकर गहरे पानी में डूब गया. उसके परिवार के लोगों में कोहराम मच गया. सूचना मिलते ही जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक समेत आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे. इस बीच एनडीआरएफ की टीम शिवरामपुर घाट पर डूबे किशोर की तलाश में जुट गयी.

शिवरामपुर घाट में डूबने वाले किशोर शिवम की तस्वीर

दुबहर क्षेत्र के मोहनछपरा निवासी राजकुमार पांडेय का 16 वर्षीय बेटा शिवम कार्तिक पूर्णिमा पर मंगलवार को सुबह करीब छह बजे दोस्तों के साथ गंगा नहाने के लिए निकला था. आठ बजे के करीब नहाते वक्त वह गहरे पानी में चला गया. बताते हैं कि पैर फिसलने से वह संतुलन खो बैठा और गहरे पानी में चला गया.

काफी देर तक न लौटने पर परिवार वालों को चिंता हुई. वे उसकी तलाश में निकले. पूछताछ और तलाश के दौरान उसके कपड़े और मोबाइल घाट पर मिले.

इसकी सूचना परिवार वालों ने स्थानीय प्रशासन को दी. इसके बाद शिवम के दोस्तों से पूछताछ हुई. पता चला कि पैर फिसलने से वह गहरे पानी में समा गया. यह सुन परिवार के लोग बिलखने लगे.

शिवम अपने माता पिता का इकलौता बेटा है. काफी मन्नतों के बाद राजकुमार पांडेय को दो बेटियों के बाद शिवम पैदा हुआ था. यह खबर सुनते ही मोहनछपरा गांव के लोग भी शिवरामपुर घाट के लिए चल दिए. वे भी शिवम की तलाश में जुट गए. हालांकि उनकी तमाम मशक्कत बेकार दिखीं.

सूचना पाकर जिलाधिकारी हरि प्रताप शाही और पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ भी तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे. मामला समझने के बाद तत्काल एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई. फिलहाल एनडीआरएफ की टीम मौके पर शिवम की तलाश में जुटी है.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.