News Desk October 14, 2019

गाजियाबाद। गाजियाबाद शहर के साहिबाबाद क्षेत्र में दिल दहला देने वाली सनसनीखेज वारदात का खुलासा हुआ है. साहिबाबाद के गिरधर एन्क्लेव क्षेत्र में निवास करने वाले एलएलबी के एक छात्र को उसके मकान मालिक ने ही मारकर उसे घर में ही दफन कर दिया.

मृतक पंकज की गुमशुदगी की 10 तारीख को रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. पुलिस के मुताबिक, प्रथमदृष्ट्या ऐसा लगता है कि मकान मालिक ने ही उसे मौत के घाट उतारकर घर में ही लाश गाड़ दिया था.

पंकज को मारकर उसकी लाश को 10 फुट गहरे गड्ढे में गाड़ दिया गया और ऊपर से प्लास्टर कर दिया गया. पुलिस का कहना है कि मकान मालिक की पुत्री से पंकज को प्रेम था, जिस पर युवती के घरवालों को ऐतराज था.

ऐसे में उसे रास्ते से हटाने हेतु उन्होंने उसे मौत के घाट उतार डाला. उत्तर प्रदेश के बलिया के निवासी पंकज एलएलबी की पढ़ाई करते थे. गिरधर एन्क्लेव में किराये पर रहते थे. अभी आरोपी फरार हैं तथा पुलिस खोज में जुटी हुई है.

जांच के दौरान पंकज के मोबाइल की लोकेशन मुन्ना सिंह घर पर ही मिल रही थी. शक के आधार पर आज जब पुलिस मुन्ना सिंह के घर पहुंची तो वह परिवार संग गायब था. आस-पड़ोस से पूछने के बाद पुलिस मकान का मेनगेट खोलकर तलाशी ली.

बेसमेंट में एक जगह ताज़ा मिट्टी पड़ी हुई है. पुलिस ने मिट्टी को हटवाकर देखा तो वहां गड्ढा दिखाई दिया. इसके बाद पुलिस ने गड्ढे को खुदवाया तो उसमे देखा कि पंकज सिंह शव पड़ा हुआ है. शव को कब्जे में लेने के बाद पुलिस ने तहकीकात की.

मोहल्ले के लोगों ने बताया कि मुन्ना की चार बेटियां हैं, जो अक्सर पंकज सिंह के साइबर कैफे पर आती-जाती थी. आशंका है कि प्रेम संबंध में विधि के छात्र की हत्या की गयी है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम भेजकर इसी बिन्दु को लेकर जांच में जुट गयी है.

बताया जा रहा है कि जिस मकान में छात्र का शव मिला, वह 50 गज के प्लॉट में बना हुआ है. मकान चार मंजिल का है और पंकज का शव बेसमेंट में बने तीन कमरों में से एक में मिला.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पंकज का शव जमीन से 6 फुट नीचे मिला. मृतक के गले पर कटे का निशान भी है. पुलिस ने बताया कि शव सिर के बल पड़ा मिला.

मौके से पुलिस को डिओडरेंट की 4-5 खाली कैन मिली हैं. पुलिस का कहा है कि पोस्टमार्टम से ही पता चल पाएगा कि हत्या किस दिन की गई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि 9 अक्टूबर की सुबह 10 बजे कॉलोनी के एक सीसीटीवी फुटेज में पंकज आखिरी बार देखा गया था.

पुलिस ने मकान मालिक मुन्ना को आरोपी बनाया है, जो सपरिवार फरार है. परिजन आरोप लगा रहे हैं कि पुलिस ने उसे भागने का मौका दिया. शुक्रवार को शक जताने के बावजूद दरोगा ने आरोपी को पूछताछ के लिए उठाने की बजाय चौकी बुलाया. अगले दिन आरोपी फरार हो गया.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.