छितौनी गांव में रास्ता रोके जाने के विरोध में ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर उपजिलाधिकारी को पत्रक सौंपा

रसड़ा, बलिया. तहसील प्रांगण में छितौनी गांव में रास्ता रोके जाने के विरोध में आक्रोशित ग्रामीणों ने गुरुवार को प्रदर्शन कर उपजिलाधिकारी को पत्रक सौपा. छितौनी गांव के आक्रोशित ग्रामीण अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी करते हुऐ तहसील प्रांगण पहुंचे. प्रागण पहुंच कर आक्रोशित ग्रामीणों ने हाथो में पत्रक लेकर जमकर नारेबाजी की.

पत्रक में आरोप लगाया की ग्राम सभा छितौनी में अराजी न 632 से होते हुये आम रास्ता मुख्य मार्ग से जुड़ता था जो सदियों से चला आ रहा था. उक्त रास्ते से सैकड़ों पिछड़ी एवं अनुसूचित जाति के लोगों का आना जाना रहता था. इस रास्ते को रोक दिया गया है. अराजक तत्वों द्वारा जान माल की धमकी दी जा रही है. अराजक तत्वों एवम भू माफियाओं द्वारा माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है.

इस मौके पर बलिराम रावत, क्षेत्र पंचायत सदस्य धर्मेन्द्र, शरीफ अहमद, राजेश राम, सत्यम रावत, विनोद कुमार प्रजापति, धर्मनाथ यादव, गणेश गुप्ता, प्रमोद कुमार राम, रूबी देवी, मनोरमा गुप्ता, राजेश गुप्ता, सरिता देवी, लालसा देवी, पानमती देवी आदि ग्रामीण रहे.

(रसड़ा संवाददाता संतोष कुमार सिंह की रिपोर्ट)