गंगा नदी के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए एनडीआरएफ टीम ने बाढ़ की आशंका वाले क्षेत्रों का दौरा किया

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

बलिया. गंगा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ने के कारण बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है. रविवार को जिला सभागार बलिया में डॉ महेंद्र सिंह जल शक्ति एवं बाढ़ मंत्री के साथ एनडीआरएफ पदाधिकारियों और जिले के प्रशासनिक अधिकारियों ने तैयारियों पर विस्तृत रूप से चर्चा की.

जिलाधिकारी आदिति सिंह के दिशानिर्देशानुसार एनडीआरएफ टीम कमांडर डीपी चंद्रा ने गंगा नदी से सटे नजदीकी गांव रामगढ़, दुबे छपरा,दया छपरा का रेकी कर स्थिति को जाना.

बता दें कि बलिया पहले से ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्र रहा है। यहां हर साल गंगा नदी में उफान आने से कई लोग बेघर हो जाते हैं, ऐसी स्थिति होने पर एनडीआरएफ की टीम राहत और बचाव कार्य में जुट जाती है। एक बार फिर गंगा नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर बढ़ जाने के कारण तहसील सदर और बैरिया का क्षेत्र संवेदनशील बना हुआ है.

बाढ़ की आशंका को देखते हुए एनडीआरएफ की टीम को बलिया जिले में तैनात किया गया है। टीम अत्याधुनिक बाढ़ बचाव उपकरण, कटिंग टूल्स व उपकरण, संचार उपकरण, मेडिकल फर्स्ट रिस्पांडर किट, डिप डाइविंग सेट, इनफ्लैटेबल लाइटिंग टावर आदि से लैस है।

पहले से ही एनडीआरएफ की टीम संबंधित कार्यक्षेत्र वाले जिलों में कम्युनिटी अवेयरनेस एवं कैपेसिटी बिल्डिंग प्रोग्राम करती है। इसमें आम जनता व आपदा में कार्य करने वाले कर्मियों को बाढ़ से पहले की तैयारी, बाढ़ बचाव की जानकारी, अस्पताल पूर्व चिकित्सा व रेसक्यू करने का तरीका तथा अन्य सुरक्षात्मक कार्यवाहीयों के बारे में जानकारी हो तथा बाढ़ आने पर जान व माल की जोखिम को कम किया जा सके।

(बैरिया से वीरेंद्र मिश्र की रिपोर्ट)