बांसडीह में कूड़ा निस्तारण केंद्र का शिलान्यास, अब कहीं भी नहीं फेंका जाएगा कूड़ा

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

बांसडीह, बलिया. बांसडीह नगर पंचायत के नगर क्षेत्र से निकलने वाले कूड़े के निस्तारण के लिए जितौरा मौजे में कूड़ा निस्तारण केन्द्र (एमआरएफ सेंटर) का शिलान्यास हो गया है. सोमवार को नगर पंचायत चेयरमैन प्रतिनिधि अरविंद सिंह मंटू ने हवन-पूजन के बाद नींव में ईंट रखकर शिलान्यास किया. करीब एक बीघा क्षेत्र में 40 लाख 75 हजार की लागत से इस केन्द्र का निर्माण किया जायेगा.

संभावना है कि यह केन्द्र लगभग दो माह में बनकर तैयार हो जायेगा. इसके बाद नगर पंचायत के नगर क्षेत्र से निकलने वाले कूड़े को यहां पर ही मशीन द्वारा निस्तारित किया जायेगा. नगर पंचायत चाहे तो खुद ही या किसी ठेकेदार के माध्यम से इसका संचालन कराएगी.

नगर पंचायत ईओ सीमा राय के अनुसार दस कुंतल कूड़े में से केवल तीन कुंतल कूड़ा ही खराब होगा. बाकी सात कुंतल कूड़े को री-साइकिलिंग करके कम्पोस्ट खाद, प्लास्टिक के खिलौने व अन्य सामानो का रॉ-मैटेरियल निकलेगा. कूड़े के ढेर से सबसे कीमती बाल निकलेंगे. इन बालों से मीथेन गैस बनाया जाता हैं, इसीलिए बाल रॉ-मैटेरियल सबसे मंहगा बिकता है. खास बात है कि केन्द्र से निकलने वाले रॉ-मैटेरियल के लिए कम्पनियां स्वयं ही कूड़ा निस्तारण केन्द्र से सम्पर्क करती हैं.

एक अनुमान के मुताबिक नगर के 15 वार्डों से प्रतिदिन औसतन करीब पांच से दस कुंतल कूड़ा निकलता है. उचित प्रबंधन नहीं होने के चलते फिलहाल यह कूड़ा इधर-उधर गड्ढों में ही फेंका जाता है. इससे गंदगी के साथ ही बीमारियों का खतरा बना रहता है. अब कूड़ा निस्तारण केंद्र बन जाएगा तो इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा.

(बांसडीह से रविशंकर पांडेय की रिपोर्ट)