चुनावी जुमला बन कर न रह जाए चंद्रशेखर विश्वविद्यालय – झुनू

बलिया। बलिया में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के नाम पर विश्वविद्यालय की घोषणा तो हुई. इस मद में धन का भी आवंटन हुआ, मगर विश्वविद्यालय का कामकाज अब तक नहीं शुरू हुआ. इस वजह से बलिया वासियों के मन में संदेह घर कर गया है कि कहीं जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय केवल चुनावी जुमला तो नहीं. ऐसा कहना है पूर्वांचल छात्र संघर्ष समिति के संयोजक नागेंद्र बहादुर सिंह झुनू का.
श्री झुनू ने बुधवार को टीडी कॉलेज में जिला छात्र संघर्ष समिति के नेतृत्व में आयोजित जनपदीय छात्र सम्मेलन को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि यह नितांत आवश्यक है कि आम लोगों की भावनाओं की कद्र करते हुए तत्काल उत्तर प्रदेश सरकार विश्वविद्यालय के लिए कुल पदों की घोषणा करें और प्रशासनिक कार्य प्रारंभ करे.

इसे भी पढ़ें – विधायक निधि से दुबहर में बनेगा छात्र संघ भवन

बुधवार को टीडी कालेज में आयोजित जनपदीय छात्र सम्मेलन में ग्रामीण क्षेत्रों के महाविद्यालयों से भी बारिश के बावजूद भारी संख्या में छात्र पहुंचे.
बुधवार को टीडी कालेज में आयोजित जनपदीय छात्र सम्मेलन में ग्रामीण क्षेत्रों के महाविद्यालयों से भी बारिश के बावजूद भारी संख्या में छात्र पहुंचे.

इसे भी पढ़ें – जनपदीय छात्र सम्मेलन टीडी कॉलेज में आज
छात्र सम्मेलन में बलिया में प्रस्तावित जन नायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय के लिए घोषणा कर प्रशासनिक कार्य प्रारंभ करने की मांग जोरदार ढंग से उठाई गई. सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए पूर्वांचल छात्र संघर्ष समिति के संयोजक नागेंद्र बहादुर सिंह झुनू ने कहा कि कुर्बानी व शहादत की सरजमी बलिया के छात्रों व नौजवानों ने जब भी देश की आवश्यकता पड़ी है, पानी से नहीं, अपने लहू से इसे सींचा हैं, लेकिन आजादी के 70 साल बाद भी सामाजिक व आर्थिक रूप से यह जनपद पिछड़ा ही है. प्रतिभाओं का धनी यह जनपद शिक्षा व स्वास्थ्य के लिए बड़े महानगरों की तरफ भटकने को मजबूर है. यहां की प्रतिभाएं गरीबी के चलते अकाल मौत की शिकार हो जाती हैं.

इसे भी पढ़ें – प्राचार्य के आश्वासन पर छात्रों का अनशन स्थगित
पूर्व छात्र नेता चुन्नू सिंह ने कहा कि आज का छात्र महंगी शिक्षा व बेरोजगारी के चक्की के दो पाटों में पिसा जा रहा है. स्वार्थ की आड़ में जाति व धर्म की घुटी पिला कर छात्रों को नौजवानों को कमजोर किया जा रहा है. देश की संपत्ति करोड़पतियों के हाथ कौड़ियों के भाव लुटाया जा रहा है. यही कारण है शिक्षा के बजट में लगातार कटौती करके केंद्र सरकार शिक्षा को बाजार के हवाले करने पर तूली हुई है. सम्मेलन में जनपद के विभिन्न महाविद्यालयों के छात्र भारी संख्या में शामिल हुए. शिक्षा के सवाल पर छात्रों में काफी बेचैनी व उत्साह देखा गया.
छात्र सम्मेलन में सतीश चंद्र कॉलेज, कुंवर सिंह महाविद्यालय, मथुरा महाविद्यालय, सुदिष्टपुरी महाविद्यालय, दुबहर महाविद्यालय, बांसडीह महाविद्यालय के अलावे ग्रामीण क्षेत्रों के महाविद्यालयों से बारिश के बावजूद भारी संख्या में छात्र पहुंचे.

इसे भी पढ़ें – जरूरत है टीडी कॉलेज को नया कलेवर देने की – कृषि मंत्री
छात्र सम्मेलन के समापन के मौके पर शहीद सैनिकों को दी गई श्रद्धांजलि. छात्र सम्मेलन में सर्वसम्मत से मानवेंद्र विक्रम सिंह को जिला छात्र संघर्ष समिति का संयोजक चुना गया. वे तीसरी बार इस पद के लिए सर्वसम्मति से चुने गए. उन्होंने छात्रों के सवाल पर खरा उतरने का आश्वासन दिया.

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

इसे भी पढ़ें – सतीशचंद्र के छात्र नेताओं ने अपर जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
सम्मेलन के अंत में बलिया के जाबांज सैनिक राजेश कुमार यादव सहित देश के अन्य 17 शहीद सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई. सम्मेलन को जगत नारायण मिश्र, दिनेश प्रताप सिंह, कृष्ण मोहन सिंह, किशन प्रताप सिंह, सुजीत सिंह परिहार, विजय आनंद सिंह, राकेश सिंह टिंकू, मिथलेश यादव, मोती, अभिषेक यादव, कमल पांडेय, सुफियान, रमाकांत, आशुतोष पांडेय, राहुल मिश्रा, अनुपम उपाध्याय, विवेक कुमार पाठक, विशाल पाठक, अविनाश, शिवनंदन, जयदीप चौबे, अवनीश पांडेय, सिराज खान, छोटू यादव, रंजीत निहाल, सुधीर सिंह, पवन सिंह, प्रमोद यादव, अमित शाह, अहमद अली, सतीश सिंह, वीरेंद्र यादव, प्रभात मौर्य, अभिषेक सिंह, ब्रह्मानंद सिंह, रंजीत सिंह समेत कई छात्र नेताओं ने संबोधित किया.

इसे भी पढ़ें – विदेश राज्यमंत्री ने किया छात्र संघ का उद्घाटन

शहीद राजेश यादव के परिवार को लखनऊ में आवासीय फ्लैट उपलब्ध कराने वाले इंफ्रा विज़न प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंधक अभय नारायण सिंह को इस मौके पर सम्मानित किया गया. सम्मेलन की अध्यक्षता तीन सदस्यीय अध्यक्ष मंडल ने किया. इसमें सतीश चंद्र महाविद्यालय के अध्यक्ष विवेक कुमार पाठक, मथुरा महाविद्यालय रसड़ा के दिलीप सिंह व अवधेशपुरी महाविद्यालय बैरिया के पूर्व अध्यक्ष नितेश सिंह शामिल रहे. संचालन जिला छात्र संघर्ष समिति के संयोजक मानवेंद्र विक्रम सिंह ने किया.

इसे भी पढ़ें – नीरज शेखर ने किया छात्र संघ का उद्घाटन