स्व.जनेश्वर मिश्र की 11वीं पुण्यतिथि पर पैतृक गांव में जुटे कई पार्टियों के नेता

स्व.जनेश्वर मिश्र की 11वीं पुण्यतिथि पर उनके पैतृक गांव शुभनथही में दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर कई दलों के नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

बैरिया, बलिया. छोटे लोहिया के नाम से जाने जाने वाले स्व.जनेश्वर मिश्र की 11वीं पुण्यतिथ पर उनके पैतृक गांव शुभनथही में समाजवादी पार्टी के नेताओं के अलावा अन्य पार्टियों के नेताओं ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की.
इस मौके पर “आज की राजनीतिक परिस्थितियों में छोटे लोहिया जनेश्वर मिश्र के विचारों की प्रासंगिकता” विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि साहित्यकार जनार्दन राय ने कहा कि छोटे लोहिया के विचार यों तो हर वर्ग के लोगों के लिए लाभप्रद है, परन्तु राजनीति के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए सबसे अधिक आवश्यक है. वह इसलिए क्योंकि उन्हें तड़क-भड़क की जीवन शैली तेजी से अपनी ओर खींच रही है,ऐसे में छोटे लोहिया का सादगीपूर्ण जीवन, सबके हित मे काम करने की प्रवृत्ति उनके राजनीतिक जीवन स्तर को ऊँचाई पर ले जाने का मार्ग बन सकती है.
पूर्व विधायक जयप्रकाश अंचल ने कहा सच्चाई यह है कि आज की राजनीति में जो चकाचौंध दिखाई देती है उससे दूर सादगी पूर्वक राजनीतिक जीवन व्यतीत करने वाले स्व. जनेश्वर मिश्र जी की प्रासंगिकता कई गुना बढ़ गयी है.
समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष डाक्टर विश्राम यादव ने कहा पंडित स्व. जनेश्वर मिश्र हमेशा गरीबों, मजलूमों व शोषितों के लिए लड़ाई लड़ते रहे. डाक्टर यशपाल सिंह ने कहा कि स्व. पंडित जी स्वार्थ की राजनीति से ऊपर उठकर समाज के लिए चिंतन का कार्य करते रहे. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनोज सिंह ने कहा आज के परिवेश में स्व. पंडित जनेश्वर मिश्र जी की कमी खल रही है.
बहुजन समाजवादी पार्टी के मण्डल चीफ विनायक मौर्य ने कहा स्व. पंडित जी की कथनी व करनी में कोई अंतर नही था. उन्होनें अपने लंबे राजनीतिक जीवन मे हमेशा गरीबो के लिए संघर्ष किया. उनके रास्ते पर चलकर ही आम लोगो का कल्याण सम्भव है. आज की राजनीति में काम करने वाले लोगों के लिए वह हमेशा प्रेणा देते रहेंगे.
विचार गोष्ठी में अवध बिहारी ओझा, सुदामा सिंह, राजेश मिश्र, भोला मिश्र,शिवशरण तिवारी, अमर तिवारी, संजय नटराज, अजय तिवारी, लक्ष्मण मिश्र आदि उपस्थित रहे. छोटे लोहिया के अनुज पंडित तारकेश्वर मिश्र ने सभी आगन्तुकों का आभार किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.