बैरिया नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि ने ‘जान का खतरा’ बताया

कहा, इसकी जानकारी मैंने मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव, विधानसभा अध्यक्ष, जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक बलिया को दे दिया है

बैरिया (बलिया) से वीरेंद्र नाथ मिश्र

बैरिया नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि व भाजपा नेता शिवकमार वर्मा मंटन ने बैरिया विधायक व बैरिया प्रभारी निरीक्षक पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि बैरिया विधायक के दबाव में बैरिया एसएचओ अपराधियों से मिलकर मेरी हत्या करा सकते हैं. इसकी जानकारी मैंने मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव, विधानसभा अध्यक्ष, जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक बलिया को दे दिया है.

मंटन ने बताया कि लगभग साढ़े तीन महीना पहले बैरिया बाजार में एक व्यक्ति द्वारा मेरे और मेरे साथ रहने वाले 14 लोगों के ऊपर 307 एवं एससी/एसटी एक्ट के तहत फर्जी मामला दर्ज कराया गया था. जांच में वह फर्जी पाया गया है. फर्जी मेडिकल के तहत मुकदमा दर्ज हुआ था. अध्यक्ष प्रतिनिधि ने बताया कि दो दिन पहले एक जमीन के विवाद में पंचायत करने गए थे. वहां बैरिया के पूर्व प्रधान सूरज पासवान के बच्चे व पत्नी भीड़ गये. बीच बचाव करने का प्रयास किया. पता चला है कि मेरे खिलाफ एससी/एसटी एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया गया है. कतिपय लोगों के दबाव में कई फर्जी मुकदमा मेरे उपर कराया है. मुझे आशंका है कि ऐसे लोग अपराधियों से मिलकर मेरी हत्या करा सकते हैं.

बैरिया नगर पंचायत में सचल शौचालय व सचल विद्युत ट्रांसफार्मर की व्यवस्था जल्द

चेयरमैन प्रतिनिधि ने बताया कि नगर पंचायत को सचल शौचालय व सचल विद्युत ट्रांसफार्मर से लैस करने की तैयारी कर ली गई है. इससे बैरिया बाजार में इलाके से आने वाले लोगों को बड़ी सहूलियत होगी.
मंगलवार को नगर पंचायत बैरिया कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत में बताया कि बैरिया चौकी परिसर में नगर पंचायत की ओर से सार्वजनिक शौचालय बनाया गया है. जिसका उपयोग दुकानदार करते हैं. लेकिन क्षेत्र से आने वाले लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए बैरिया पानी टंकी के पास सचल सुलभ शौचालय व स्नानघर लगाया जाएगा. इसमें तीन महिला व तीन पुरुषों के लिए एक साथ शौच की व्यवस्था होगी. लंबे समय से यह समस्या थी, जिसका समाधान हो सकेगा.

वर्मा ने कहा कि बैरिया नगर पंचायत में बिजली की अनियमित आपूर्ति वह ट्रांसफार्मरों के जलने से लोग परेशान हो जा रहे हैं. इसके लिए सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त से मैंने आग्रह किया था कि 400 केवीए व 250 केवीए का दो मोबाइल ट्रांसफार्मर बैरिया नगर पंचायत को उपलब्ध कराया जाए, ताकि अगर किसी मोहल्ले का ट्रांसफार्मर जलता है तो सचल ट्रांसफार्मर को लगाकर वहां की विद्युत समस्या तत्काल सुचारू कराई जाए.

उन्होने कहा कि बैरिया नगर पंचायत में लोगों के घरों तक स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के लिए पूरी तैयारी कर ली गई है. एक सप्ताह के भीतर बन्द पड़ी बैरिया की पानी टंकी से बैरिया के विभिन्न घरों में पेयजल आपूर्ति होगी.

जांच से डरने वाला नहींशिवकुमार उर्फ मन्टन वर्मा

नगर पंचायत बैरिया के चेयरमैन प्रतिनिधि शिवकुमार उर्फ मन्टन वर्मा ने कहा कि राजनीतिक साजिश के तहत मुझे फंसाने की नियत से सात वर्ष पुराने ग्राम पंचायत बैरिया में कराए गए विकास कार्यों की जांच बार-बार कराई जा रही है. अभी तक कुल पांच बार इसकी जांच हो चुकी है. सभी जाचों में यह स्पष्ट है कि कोई भी गड़बड़ी नहीं पाई गई है.

उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 में विभिन्न कार्यों की सीडीओ की अध्यक्षता में जांच हुई थी. जिसमें तकनीकी टीम के लोग भी शामिल हुए थे. उसमें 28 अगस्त 2020 को 88,300 रुपये की रिकवरी का निर्देश दिया गया था. जिसे मैंने भर दिया था. उसके बाद भी माननीय उच्च न्यायालय में वाद दाखिल कर जांच के लिए वर्ष 2014 से 2017 तक की प्रक्रिया पुनः कराई गई. दूसरी बार 63,000 रुपया रिकवरी कराई गई है. जिसे मैंने जमा कर दिया है. मुझे लगता है कि अब इसके बाद जांच प्रक्रिया बंद हो जानी चाहिए. मैं जांच से डरने वाला नहीं हूं, लेकिन पुराना कार्य जांच होगा तो गुणवत्ता का घटना लाजमी है. फिर भी बार-बार कुछ राजनैतिक लोग साजिश के तहत मुझे फंसाने का प्रयास करते है जो बंद होना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.