News Desk June 27, 2020

बैरिया से वीरेंद्र नाथ मिश्र

शनिवार को डॉ. ब्रह्म प्रकाश सिंह (गोन्हिया छपरा) मेमोरियल सोसायटी की ओर से आयोजित दो दिवसीय व्याख्यानमाला की शुरुआत हुई. पहले दिन फेसबुक लाइव के माध्यम से शिक्षा एवं पर्यावरण से संबंधित कुल 5 व्याख्यान हुए. कार्यक्रम की शुरुआत में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर एवं सोसाइटी के अध्यक्ष डॉ. प्रेम प्रकाश सिंह ने सबका स्वागत किया. साथ ही सोसाइटी द्वारा शिक्षा एवं पर्यावरण के क्षेत्र में किए जा रहे हैं कार्यों के बारे में विस्तार से बताया.

डॉ. प्रेम प्रकाश सिंह

उन्होंने डॉ. ब्रह्म प्रकाश सिंह मेमोरियल उच्च शिक्षा फैलोशिप के अलावा कुल चार और फेलोशिप की घोषणा की और बताया कि इसके लिए चयन प्रोफेसर गणेश पाठक के नेतृत्व में गठित कमेटी के संस्तुति के आधार पर किया जाएगा. अपने संबोधन के अंत में उन्होंने इस वर्ष के लिए, लड़कियों की शिक्षा एवं विज्ञान के लैब की सुचारू व्यवस्था पर मुख्य ध्यान देने का संकल्प लिया.

आईएएस एकेडमी के डायरेक्टर आनंद प्रकाश चौबे ने श्रोताओं को प्रशासनिक परीक्षाओं में सफलता के लिए मूल मंत्र साझा किया. उन्होंने सुझाव दिया कि विद्यार्थियों को स्नातक स्तर से ही एनसीईआरटी की किताबें पढ़ना शुरू कर देना चाहिए. साथ ही डॉ ब्रह्म प्रकाश सिंह मेमोरियल सोसाइटी के साथ मिलकर जिले के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कक्षाओं की व्यवस्था करने की बात कही.

अगले व्याख्यान में पूर्वांचल विश्वविद्यालय के पर्यावरणविद डॉ अभिषेक भारद्वाज ने पर्यावरण संरक्षण के उपाय एवं इस संदर्भ में भारतीय संस्कृति में निहित तथ्यों की चर्चा की. उन्होंने अपने संबोधन में उपभोग एवं उपयोग के अंतर को समझाया. अगले व्याख्यान के लिए, लंदन से जुड़े डाटा साइंटिस्ट डॉ. हिमांशु कात्यान ने डाटा साइंस एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में युवाओं के करियर संभावनाओं पर चर्चा की.

दिन के अंतिम व्याख्यान में दिल्ली पुलिस की इंस्पेक्टर अंकिता सिंह ने वन डे परीक्षाओं की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया एवं उन्हें परीक्षा में सफल होने के लिए जरूरी सुझाव दिए. उन्होंने कहा कि लड़कियों को इन परीक्षाओं में सफल होने के लिए मानसिक रूप से मजबूत होना होगा.

कल व्याख्यान माला के दूसरे दिन बलिया जीआईसी के प्रधानाचार्य, पर्यावरणविद प्रोफेसर गणेश पाठक, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के डॉ. राजेश गर्ग एवं अनिल कुमार सिंह का संबोधन होगा.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.