समान शिक्षा के लिए संघर्ष करता रहूँगा: राधेश्याम

समान शिक्षा के लिए संघर्ष करता रहूँगा: राधेश्याम

बैरिया (बलिया)। एक समान शिक्षा के लिए लोगों में जन जागृति के लिए पूरे देश में चार हजार किमी की साइकिल यात्रा करने के बाद प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र व पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों के घेराव के क्रम में गिरफ्तारी देने तथा हरिद्वार से प्रधानमंत्री कार्यालय तक दंडवत यात्रा निकालने वाले समाजवादी नेता राधेश्याम यादव ने कहा है कि चापरासी व आइएएस के बेटे को एक तरह के स्कूल में एक तरह की शिक्षा की मांग को लेकर अपना अभियान जारी रखेंगे.

उक्त जानकारी देते हुए राधेश्याम यादव ने बैरिया में पत्रकारों को बताया कि समान शिक्षा व्यवस्था के लिए हमार लड़ाई व्यवस्था में बैठे लोगों के साथ जारी रहेगी. इस क्रम में एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री, सभी केंद्रीय मंत्रियों, सभी सांसदों, सभी प्रदेश के मुख्यमंत्रियों व शिक्षा मंत्रियों को प्रतिवेदन भेजा जा रहा है. जरूरत पड़ी तो सड़क पर लड़े जाने वाली इस लड़ाई को न्यायालय में भी ले जाया जाएगा. उन्होंने कहा कि अभी जो शिक्षा व्यवस्था है वह संविधान के खिलाफ है. इसलिए इसमें सुधार जरूरी है. अगर ऐसा नहीं होता है तो इसके खिलाफ बड़ा जनांदोलन खड़ा किया जाएगा. आज की स्थिति यह है कि गरीब के बच्चे सरकारी विद्यालयों में पढते हैं. जबकि धनी लोगों के बच्चे पब्लिक स्कूलों में. सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चे चपरासी भी नहीं बन पाते हैं. जबकि धनवानों के बच्चे पब्लिक स्कूलों में अच्छा शिक्षा पाकर अधिकारी बन जाते हैं. इस दोहरी व्यवस्था के खिलाफ लोगों में जनजागृति पैदा करने और देश के रहनुमाओं के चाल-चरित्र को जनता के सामने रखकर इसे लागू करने हेतु सरकार पर दबाव बनाया जाएगा. सफलता मिले या न मिले, यह लड़ाई जारी रहेगी.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!