जनशिकायतों के निस्तारण पर गम्भीर दिखे ऊर्जा मंत्री

जनशिकायतों के निस्तारण पर गम्भीर दिखे ऊर्जा मंत्री

कल्याणकारी योजनाओं के लाभ से कोई भी पात्र वंचित नहीं रहे

बैठक कई अधिकारी के गायब रहने पर जताई नाराजगी

बलिया। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि जनशिकायतों के निस्तारण में फर्जीवाड़ा संज्ञान में नहीं आना चाहिए. पूरी तरह गुणवत्तापरक निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए. इसकी अचानक चेकिंग रेंडम आधार पर होती रहे. कहीं कमी मिलने पर जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी को कत्तई न बख्शा जाए. राज्यमंत्री स्वतन्त्र प्रभार उपेन्द्र तिवारी संग कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक कर कड़े शब्दों में कुछ लापरवाह अधिकारियों को समझाया. कहा कि तहसील व थाने पर आयोजित होने वाले दिवस पर सुनवाई ठीक हो जाए तो अधिकांश समस्याएं अपने आप दूर हो जाएगी. दो टूक कहा कि कल्याणकारी योजनाओं का लाभ हर पात्र को मिलना चाहिए. सड़क व अन्य निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का पूरा ख्याल रखने को कहा. राशन वितरण प्रणाली में भी पूरी पारदर्शिता सुनिश्चित कराने को कहा. निर्देश दिया कि गोदामों पर भी अचानक चेकिंग होती रहे. धान खरीद के सम्बंध में भी डिप्टी आरएमओ को जरूरी दिशा-निर्देश दिए. करेत्तर की समीक्षा से हुई. वसूली की प्रगति सही रखने की हिदायत दी. अवैध कब्जों को हटाए जाने के कार्य की तहसीलवार समीक्षा के बाद शर्मा ने कहा कि सरकारी जमीन पर सरकार का ही कब्जा होना चाहिए. अतिक्रमण हटाने जाने के साथ यह भी सुनिश्चित कराएं कि दोबारा अतिक्रमण नहीं हो.

फेफना तिराहे पर कब्जे के बाबत पूछताछ की तो बताया गया कि एसडीएम सदर व सीवीओ ने जांच की है. अतिक्रमण हटाने के लिए तिथि भी तय हुई है. शर्मा ने कहा कि सख्ती से अतिक्रमण हटाकर अवगत कराया जाए. जनसेवा केंद्र के सम्बंध में कहा कि जो केंद्र जहां के लिए आवंटित है वहीं कार्य करें. प्रमाण पत्र बनने का कार्य समय से कराना सुनिश्चित कराएं. सम्पूर्ण समाधान दिवस के कुछ प्रकरण लम्बित होने पर कारण जाना. चेताया कि ऐसे दिवसों के मामले पूरी तरह गुणवत्तापूर्ण निस्तारित होने चाहिए.

स्वास्थ्य की समीक्षा में सीएमओ की लगाई क्लास

जननी सुरक्षा योजना में लम्बित भुगतान पर सीएमओ की क्लास लगाई. सवाल किया कि आखिर सरकार का पैसा लाभार्थी को देने में दिक्कत क्या है. हर लाभार्थी चाहता है कि उसको लाभ मिले. यदि नहीं मिलता है तो निश्चित रूप से विभाग की लापरवाही है. इसमें सुधार लाएं, अन्यथा कार्रवाई को तैयार रहें. टीकाकरण अभियान में सही रिपोर्टिंग नहीं होने पर नाराजगी जताई. सीएमओ को निर्देश दिया कि खुद की निगरानी में रिपोर्ट बनवाएं. मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने नरहीं सीचसी पर इंजेक्शन नहीं होने व स्टाफ की लापरवाही की बात कही. इस पर शर्मा ने सीएमओ को कड़े शब्दों में सुधरने की नसीहत दी.

सफाई कार्य से नहीं हो समझौता

अस्पताल समेत पूरे शहर में सफाई कार्य से कोई समझौता नहीं हो. हर जरूरी जगहों पर डस्टबीन रहें. नगरपालिका के ईओ को निर्देश दिया कि अस्पताल समेत शहर के हर इलाके में लगातार दवाओं का छिड़काव होता रहे, ताकि मच्छर आदि से बचाव किया जा सके.

ग्रापं में अनियमितता मिले तो शीघ्र हो कार्रवाई

ग्राम पंचायतों में अनियमितता पर कार्रवाई में देरी पर सवाल किया. इसका जवाब जिम्मेदार अधिकारी नहीं दे आए. प्रभारी मंत्री ने स्पष्ट किया कि अनियमितता की जांच में कोई भी सरकारी कर्मी दोषी मिले तो कार्रवाई में देरी नहीं होनी चाहिए. ऐसा हुआ तो अधिकारी उसके जिम्मेदार स्वयं होंगे.

ये रहे मौजूद

बैठक में विधायक बैरिया सुरेंद्र सिंह, जिलाध्यक्ष विनोदशंकर दुबे, सीडीओ बद्रीनाथ सिंह, डीएफओ श्रद्धा यादव, एएसपी विजयपाल सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट डॉ विश्राम, संयुक्त मजिस्ट्रेट विपिन जैन व अन्नपूर्णा गर्ग, एसडीएम व सीओ समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!