जिले में अखंडता दिवस के रूप में मनाई गई सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती

जिले में अखंडता दिवस के रूप में मनाई गई सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती

बलिया। जनपद में भारत के प्रथम गृहमंत्री लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयन्ती अखंडता दिवस के रूप में मनाई गई. सरकारी संस्थाओं में शपथ लेकर, तो शिक्षण संस्थाओं में सरदार पटेल के सिद्धांतों को कार्यक्रमों के माध्यम से आत्मसात करके एवं भाजपाजनों ने “रन फार युनिटी” के साथ सरदार पटेल को याद किया, नमन किया तथा उनके सिद्धांतों पर चलने की शपथ ली.

बांसडीह। भारत के प्रथम गृह मंत्री सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर ‘रन फार यूनिटी’ का आयोजन किया गया. जो बांसडीह अंबेडकर प्रतिमा पर माल्यापर्ण से शुरू होकर बांसडीह कोतवाली स्टेट बैंक होते हुये बड़ी बाजार स्थित गाँधी जी के प्रतिमा स्थल पर पहुँचा जहा पर गाँधी जी के प्रतिमा पर माल्यापर्ण कर सभा मे परिवर्तित हो गया. आयोजित कार्यक्रम में बड़ी सख्या में भाजपा कार्यकर्ता सहित शिक्षण सस्थाओं
के लोग शामिल रहे. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दयाशंकर सिंह ने सरदार पटेल के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए उनके सिद्धांतों को जीवन में उतारने की बात कही. भाजपा जिला अध्यक्ष विनोद दूबे ने कहा कि आज रन फार यूनिटी में बड़ी सख्या में लोगो की उपस्थिति यह साबित कर रहा है कि देश मे आपसी एकता और अखंडता के प्रति रुझान बढ़ रहा है. इस अवसर में आयोजित सभा मे रन फार यूनिटी कार्यक्रम के बांसडीह विधानसभा सयोंजक प्रतुल कुमार ओझा ने भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह को स्मृति चिन्ह तथा अंगवस्त्र से सम्मानित किया. इस अवसर पर लक्ष्मण दूबे, डाक्टर डीके शुक्ला, दिलीप गुप्ता, कौशल सिंह, अजय सिंह, विद्यासागर पांडेय,राजेन्द्र सिंह,अभिषेक उपाध्याय,मनोरमा गुप्ता,रंजना सिंह,मुनजी कुमार, अमित यादव,राहुल गुप्ता, सहित बड़ी सख्या में लोग शामिल रहे.

गंगोत्री देवी इण्टर कालेज में छात्रों को आत्मसात कराया गया सरदार पटेल के सिद्धांत

सिकन्दरपुर देश के पूर्व उपप्रधान मंत्री सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयंती को गंगोत्री देवी इंटर कॉलेज, सिकन्दरपुर में राष्ट्रीय अखंडता दिवस के रूप में मनाया गया. कार्यक्रम की शुरुआत में विद्यालय के अध्यापक, छात्र व छात्राओं ने उन्हें नमन किया. ततपश्चात आयोजित संगोष्ठी की शुरुआत सरदार पटेल के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर की गयी.

संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए विद्यालय के प्रबंधक नरेंद्र प्रसाद गुप्ता ने सरदार पटेल का भावपूर्ण स्मरण करते हुए उनके कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला. कहा कि देश के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान को हमेशा याद किया जाता रहेगा. उन्होंने सरदार पटेल के कृतित्व से नसीहत लेकर राष्ट्रीय व सामाजिक विकास में योगदान करने का आहवान किया. प्रधानाचार्य राजेश कुमार गुप्ता, सन्तोष कुमार, अमृतकांत, कविन्द्र वर्मा, शौकत अली, रामजश राम, मनिन्द्र, ओमप्रकाश वर्मा, हेमंत राय, कृष्ण कुमार गुप्ता आदि मौजूद रहे. संचालन त्रिलोकी नाथ पांडेय ने किया.

बैरिया। लौह पुरुष भारत के प्रथम गृह मंत्री एकता अखंडता का मंत्र देने वाले सरदार बल्लभभाई पटेल की जयंती पर ” रन फॉर यूनिटी ” कार्यक्रम के तहत प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मुक्तेश्वर सिंह के नेतृत्व में बैरिया विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह समेत सैकड़ो भाजपा कार्यकर्ताओं ने द्वाबा के मालवीय स्व मैनेजर सिंह के मूर्ति से शहीद स्मारक बैरिया तक दौड़ते हुए पहुंचे.

शहीद स्मारक के प्रांगण में पहुंचे भाजपा कार्यकर्ताओं ने भारत माता की जय, सरदार पटेल अमर रहे कि नारेबाजी किये. प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मुक्तेश्वर सिंह ने कहा कि सरदार पटेल जी से हमे एकता व अखण्डता की सिख मिलती है. गुजरात मे पटेल जी का लगी सबसे ऊंची प्रतिमा हम देशवासियों को हमेशा एकता व अखण्डता की याद दिलाता रहेगा. उक्त मौके पर विधायक सुरेन्द्र सिंह, पूर्व जिला अध्यक्ष विजय बहादुर सिंह, प्रदेश कार्य कार्यकारीणी सदस्य मुक्तेश्वर सिंह, चेयरमैन प्रतिनिधि मंटन वर्मा, जिला उपाध्यक्षअमिताभ उपाध्याय, मंण्डल अध्यक्ष मंटू बिंद व विजय बहादुर सिंह, पूर्व मंण्डल अध्यक्ष रमाकान्त पाण्डे,नन्द जी सिंह, मुटन राय, तेजनारायण मिश्रा, हरिकंचन सिंह सहीत सैकड़ो लोगो ने भाग लिया.

 

उधर स्थानीय तहसील के सभागार में बुधवार को सरदार बल्लभ भाई पटेल की 143 वीं जयन्ती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रुप मे मनाया गया. उपजिलाधिकारी लालबाबू दुबे ने स्व पटेल की प्रतिमा पर माल्यापर्ण के बाद देश की एकता और अखण्डता को बनाए रखने के लिए उपस्थित लोगों शपथ दिलाया. वही पूर्व प्रधानमंत्री स्व इन्दिरा गांधी कि पुण्यतिथि को राष्ट्रीप संकल्प दिवस के रुप मे मनाया गया.
उपजिलाधिकारी ने कहा कि सरदार बल्लभ भाई पटेल का व्यक्तित्व बहुत ही विराट था. उनके विराट व्यक्तित्व का समूचे देशवासियों को अनुसरण व अनुरकण करना चाहिए. उन्होंने स्व इन्दिरा गांधी को भी याद कर उनके व्यक्तित्व का अनुकरण करने पर बल दिया. तहसीलदार गुलाब चन्द्रा ने कहा कि दोनो महान विभूति देश के लिए आदरणीय है. दोनो के विचार और कार्य आज भी प्रासंगिक है. जिन पर चलना ही देश की एकता व अखण्डता को बरकरार रखने जैसा है. शपथ के दौरान अधिवक्ता राकेश मिश्र, विनय सिंह, राजेन्द्र गुप्ता, इन्द्रभान यादव, बबन यादव, वशिष्ट, अरुण जी, संजय सिंह,गणेश,जगमोहन सिंह आदि ने भाग लिया.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!