नगर पंचायत बांसडीह में बोर्ड की बैठक के दौरान कहासुनी

बांसडीह, बलिया. नगर पंचायत बांसडीह में बोर्ड की बैठक के दौरान अधिशासी अधिकारी व सभासद के बीच कुछ बात को लेकर चेयरमैन सहित सभासदों ने अधिशासी अधिकारी के विरूद्ध मोर्चा खोलते हुए नगर पंचायत परिसर में ही धरने पर बैठ गये. और अधिशासी अधिकारी के स्थानांतरण की मांग पर अड़े रहे.

 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बांसडीह नगर पंचायत में नगर पंचायत चेयरमैन रेनू सिंह की अध्यक्षता में बोर्ड की बैठक दो बजे से शुरू हुई. बैठक के दौरान नगर पंचायत के वार्ड नंबर 11 के सभासद राजेश कुमार द्वारा अपने वार्ड में हुए विकास कार्यों का विवरण पूछा जा रहा था. सभासद का कहना है कि इस दौरान अधिशासी अधिकारी अनुशासनहीनता का परिचय देते हुए हंस रही थी. सभासद के प्रश्नों का उत्तर अधिशासी अधिकारी द्वारा नहीं दिया जा रहा था. इस बाबत सभासद द्वारा ध्यानाकर्षण कराने पर अधिशासी अधिकारी भड़क गई तथा बैठक छोड़कर चली गई.

अधिशासी अधिकारी द्वारा बैठक छोड़कर चले जाने के बाद सभासदों द्वारा अधिशासी अधिकारी को बैठक में बुलाया गया बावजूद इसके अधिशासी अधिकारी बैठक में नहीं पहुंची. बार-बार बुलाए जाने के बाद बैठक में अधिशासी अधिकारी के न आने पर चेयरमैन सहित सभासद गण अधिशासी अधिकारी के स्थानांतरण की मांग को लेकर नगर पंचायत परिसर में ही धरने पर बैठ गए.

अधिशासी अधिकारी सीमा राय द्वारा मामले की सूचना पुलिस को दी गई सूचना मिलते ही बांसडीह पुलिस नगर पंचायत कार्यालय पहुंच गई.

 

अधिशासी अधिकारी सीमा राय का कहना है कि वार्ड नं 11 के सभासद राजेश कुमार ने बोर्ड की मीटिंग के दौरान मेरे साथ अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया. सभासद द्वारा अशोभनीय भाषा सुनकर मैं बैठक छोड़कर अपने कार्यालय में आ गई. सभासद ने मेरे साथ अभद्रता की. मैं इसकी सूचना बांसडीह के प्रभारी निरीक्षक को दी.  पुलिस द्वारा धरना से अपने उच्चाधिकारियों को सूचना दी. सूचना पाकर नायब तहसीलदार अंजू यादव नगर पंचायत कार्यालय पहुंची. चेयरमैन सहित सभासदों ने नायब तहसीलदार को पत्रक सौप कर कार्यवाही की मांग की. नायब तहसीलदार ने इस प्रकरण को उच्चाधिकारियों को अवगत कराने के आश्वासन के बाद धरना समाप्त हुआ. धरना में सभासद प्रतुल ओझा,बिजय कुमार गुप्ता, झम्मन सिंह ,सोनू सिंह,लुकमान आदि रहे.

(बांसडीह संवाददाता रवि शंकर पाण्डेय की रिपोर्ट)