मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलिया में हुए सड़क हादसे में तीन लोगों की मौत पर जताया शोक

सिकंदरपुर, बलिया. नवरतनपुर चट्टी के पास मंगलवार की सुबह करीब 6:30 बजे एक सड़क हादसा हो गया. इस हादसे में पिता-पुत्र समेत तीन लोगों की मौत हो गई. घटनास्थल पर सैकड़ों की भीड़ जमा हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया.

वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीनों लोगों की मौत पर गहरा शोक जताया. उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

 

घटना की जानकारी होते ही क्षेत्र में मातम पसर गया. वहीं, घटनास्थल पर सैकड़ों की भीड़ जमा हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया.

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.

सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के मिल्की मोहल्ला निवासी मनोज कुमार ( 35 वर्ष) पुत्र गंगा सागर राजभर अपने पांच वर्षीय पुत्र आलोक व भतीजा रोहित (16 वर्ष) के साथ अपनी बाइक से रिश्तेदार के घर मटुरि गांव जा रहे थे. नवरतनपुर चट्टी के समीप बेल्थरारोड की तरफ से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी बाइक को जोरदार टक्कर मार दी. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बाइक सवार व मोटरसाइकिल के परखच्चे उड़ गए. हादसे की आवाज सुन आनन फानन में सैकड़ों की संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुंच गए.

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो टक्कर की वजह से जहां मोटरसाइकिल सवारों के शरीर क्षत-विक्षत हो गया थे. वहीं ट्रक में फंसकर मोटरसाइकिल करीब तीन सौ मीटर तक घिसटती रही. लोगों ने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी. मौके पर प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार यादव व पुलिस के जवानों ने तीनों शवों को एम्बुलेंस से सीएचसी सिकन्दरपुर भेजा. हादसे की खबर लगते ही परिवारीजन हॉस्पिटल पहुंच गए.

घटना ने उजाड़ी सीमा की दुनिया मंगलवार की सुबह हुए हादसे में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत ने परिवार को झकझोर कर रख दिया. सबसे बुरा हाल मनोज की पत्नी सीमा का है. उसके पति व पुत्र की मौत ने उसे तोड़ कर रख दिया है. वह सबसे एक ही सवाल पूछ रही है कि मेरे पति व पुत्र को क्या हो गया है? वहीं मनोज की माता लाल बुची देवी का भी रो-रो कर बुरा हाल है. रोते रोते वो बेहोश हो जा रही थीं. बता दें कि मृतक मनोज की शादी छह वर्ष पूर्व कठौड़ा में हुई थी. सीमा का 5 वर्ष का एक पुत्र आलोक ही था. अपने पुत्र व पति की मौत की जानकारी जैसे ही उसको मिली वो बेसुध हो गई. उसकी पूरी दुनिया ही उजड़ गई है.

(सिकंदरपुर संवाददाता संतोष शर्मा की रिपोर्ट)