जिलाधिकारी ने जिला जेल का किया औचक निरीक्षण

बलिया: जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने सोमवार को जिला जेल का औचक निरीक्षण किया. वहां उन्होंने जेल की सभी बैरक एवं व्यवस्था को देखा तथा जेलर से जरूरी पूछताछ कर समीक्षा की. उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि जेल में जो शासन की ओर से व्यवस्था व मानक तय हैं, उसी के हिसाब से सभी गतिविधियां संचालित होने चाहिए.

जिलाधिकारी ने जेल की महिला बैरक का भी निरीक्षण किया और वहां की व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने कहा कि जेल में साफ सफाई का विशेष ध्यान रहे और भोजन की गुणवत्ता अच्छी हो. जेल की व्यवस्था व कैदियों से संबंधित जानकारी जेल प्रशासन से ली इस दौरान पुलिस अधीक्षक राजकरन नैय्यर, सीआरओ विवेक श्रीवास्तव, सूचना अधिकारी अनुराग रंजन भी साथ थे.

 

टीका लगवाने के प्रति जागरूकता अभियान में सबका सहयोग अपेक्षित: डीएम

बलिया. जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में प्रेस वार्ता की. सबसे पहले उन्होंने सभी पत्रकारों से परिचय प्राप्त किया. जनपद को विकास के पथ पर तेजी से अग्रसर होने के लिए सभी से सहयोग की अपेक्षा की.

जिलाधिकारी ने वैक्सिनेशन के सम्बंध में जनपद की स्थिति की जानकारी दी. साथ ही कहा कि हम सब का प्रयास है कि जल्द से जल्द शत प्रतिशत लोगों का वैक्सीनेशन पूरा हो जाए. चिकित्सा विभाग को प्रतिदिन 50 हजार से अधिक टीके लगाने का लक्ष्य दिया गया है. उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों में और बेहतर तरीके से जागरूकता लाई जा सकती है. इसलिए इस क्षेत्र में मीडिया बंधुओं से भी सहयोग की अपेक्षा है.

 

जिलाधिकारी ने पत्रकारों संग ली बूस्टर डोज

 

जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट सभागार में पत्रकारों के साथ कोविड-19 का बूस्टर डोज लिया. उन्होंने अन्य अधिकारियों व पत्रकार बंधुओ को भी बूस्टर डोज ले लेने के लिए कहा. इस अवसर पर जिन लोगों को पहली या दूसरी डोज नहीं लगा था, उनको भी पहला या दूसरा डोज लगाया गया. जिलाधिकारी के इस पहल से अधिकारियों में काफी उत्साह देखने को मिला. वहां मौजूद सभी ने बारी-बारी से वैक्सीनेशन का बूस्टर डोज लिया.

 

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट )