बलिया में कहीं स्वर्ग है तो वह सुरहा ताल है: जिलाधिकारी

बलिया. जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने बसंतपुर स्थित सुरहा ताल पर सुरहा ताल पक्षी विहार के लोगो का अनावरण किया. अनावरण के दौरान उन्होंने कहा कि सुरहा ताल के विकसित हो जाने से यहां के मछुआरा समुदाय के लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे और उनकी आय बढ़ेगी.

साथ ही इस क्षेत्र के लोगों का विकास होगा. उन्होंने कहा कि हम सब का प्रयास होना चाहिए कि हम सब मिलकर सुरहा ताल को सुरक्षित रखें जिससे कि पर्यावरण को सुरक्षित रखने में मदद मिले. उन्होंने कहा कि जिस प्रकार धरती पर अगर कहीं जन्नत है तो वह कश्मीर में है उसी प्रकार जनपद में अगर कहीं स्वर्ग है तो वह सुरहा ताल है.

उन्होंने सभी लोगों से आह्वान किया कि सभी लोग मिलकर आगे आये और प्रगति के नए अवसर तलाशे. जिससे कि लोगों को रोजगार के अवसर मिले. उन्होंने कहा कि यहां पर या 10 से लेकर 12 दिसंबर तक महोत्सव मनाया जाएगा जिसमें अधिक से अधिक संख्या में बच्चे और उनके परिजन आएंगे जो प्रकृति के मनोरम सौंदर्य को नजदीक से देखेंगे.

उन्होंने कहा कि सुरहा ताल अपने साइबेरियन पक्षियों के लिए जाना जाता है.यह ताल कई किलोमीटर में फैला हुआ है जहां पर नौकायन का भी आनंद लिया जा सकता है. उन्होंने कहा नौकायन करते समय सुरक्षा का पूरा ख्याल रखें. इसके लिए उन्होंने निर्देश दिया है कि मछुआरा समुदाय और नौकायन करने वाले लोगों को जिला आपदा प्रबंधन और रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाए.
बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट