अपर जनपद न्यायाधीश ने किया जिला कारागार का औचक निरीक्षण

बलिया. उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार एवं जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया जितेन्द्र कुमार पाण्डेय के कुशल मार्गदर्शन में 08 दिसंबर 2022 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया के अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव, नरेन्द्र पाल राणा एवं सुश्री शाम्भवी यादव अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम बलिया द्वारा जिला कारागार बलिया का औचक निरीक्षण किया गया.

दौरान निरीक्षण नरेन्द्र पाल राणा अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव एवं सुश्री शाम्भवी यादव अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम बलिया द्वारा किशोर बैरक सहित समस्त बैरकों का निरीक्षण कर, बंदियों से वार्ता किये. वार्तालाप के दौरान बंदियों की छोटी-छोटी समस्याओं पर ध्यान देते हुए, उन्हें सुना तथा समस्याओं का तुरन्त निराकरण करने हेतु प्रभारी जेलर को निर्देशित किया गया. निरीक्षण के दौरान जेल अपील के सम्बन्ध में भी पूछंताछ की गयी. प्रभारी जेलर द्वारा बताया गया कि सभी दोषसिद्ध बन्दियों द्वारा जेल अपील तथा निजी अपील दाखिल कर दी गयी है. प्रभारी जेलर, जिला कारागार बलिया को यह भी निर्देशित किया गया कि जिन बन्दियों के पास अपने मुकदमें की पैरवी हेतु अधिवक्ता उपलब्ध नही है, उनसे प्रार्थना पत्र लेकर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया को प्राप्त करवाना सुनिश्चित करें, जिससे उनके मुकदमें की पैरवी हेतु अधिवक्ता नामित किया जा सके.

इसके साथ-ही जिला कारागार बलिया में विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बलिया के अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव, नरेन्द्र पाल राणा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ. जिसमें बंदियों को विधिक रूप से जागरूक किया गया. जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बलिया के अपर जनपद न्यायाधीश/सचिव, द्वारा बताया गया कि जिला कारागार बलिया में लीगल एड क्लीनिक स्थापित की गई है, जिसमें पैरा लीगल वालेंटियर नामित है, जो बंदियों को निःशुल्क कानूनी सहायता उपलब्ध कराएंगे.

इस दौरान श्रीमती रीना प्रभारी जेलर, अमर सिंह उपकारापाल, तथा जेल में निरूद्ध विचाराधीन व सिद्धदोष बंदी उपस्थित रहे.
बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट