बलिया के 1704 किसानों को मिल रहा जैविक खेती अपनाने का लाभ , एक हेक्टेयर पर तीन साल में मिलता है 31 हजार रुपये अनुदान

दुबहर, बलिया। जैविक खेती को धरातल पर उतारने के लिए यूपी डास्प बलिया के अन्तर्गत जिला परियोजना समन्वयक डा. विरेन्द्र कुमार राव एवं ए.एफ़.सी. इंडिया लिमिटेड के प्रोजेक्ट समन्वयक राजेश चौधरी ने जैविक खेती के विषय में जरूरी टिप्स दिए।

 

प्रोजेक्ट समन्वयक ने बताया कि जैविक खेती से किसानों का आर्थिक व स्वास्थ्य संबन्धित समस्याओ का पूरी तरह समाधान हो जाएगा, किसानों को जीवामृत बीजामृत तरल कीट नाशक एवं वर्मीकम्पोस्ट बनाने के तरीको एवं उनसे होने बाले लाभों के साथ किसानों को मिलने बाले अनुदान के बारे में बताया कि जनपद के दुबहड़, बेलहरी, मुरली छपरा, बैरिया, एवं सोहाँव ब्लॉकों के 1704 किसानो को पहले साल 12 हजार दूसरे साल 10 हजार तीसरे साल 9 हजार मिलेगा।

 

उसके साथ प्रमाणीकरण संस्था मासूम फाउंडेशन के गौरव शुक्ला एवं सुभम प्रताप सरोज ने किसानों के खेतों का स्थलीये निरीक्षण किया साथ साथ किसानों को प्रमाणीकरण के विषय में बताया और प्रमाणीकरण के तीन साल पूरे होने के बाद उत्पाद का अधिक मूल्य कैसे मिले उसके बारे में बताया I

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट)