सद्भाव दौड़ को कुलपति ने दिखाई हरी झंडी

सभी धर्मों के मूल में है इंसानियत: प्रो. निर्मला एस. मौर्य

जौनपुर. भारत सरकार के गृह मंत्रालय के अधीन राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सद्भाव प्रकोष्ठ एवं वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंधन विभाग के संयुक्त तत्वावधान से सात दिवसीय राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सद्भाव सप्ताह मनाया जा रहा है। इसके तहत मंगलवार को विश्वविद्यालय परिसर में सद्भाव दौड़ का आयोजन किया गया है। यह दौड़ सरदार पटेल प्रतिमा से शुरू होकर एकलव्य स्टेडियम होते हुए व्यवसाय प्रबंधन संकाय पर समाप्त हुआ।

 

विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस. मौर्य ने सद्भाव दौड़ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सभी धर्मों का उद्देश्य एक ही है l सभी धर्मों का मूल तत्व इंसानियत है। लोगों को एक दूसरे के धर्मों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। छात्रों को मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, गिरिजाघर आदि में भी जाना चाहिए। इन सभी धार्मिक स्थल पर सुख शांति की अनुभूति होती है। सभी धर्म ग्रन्थ मानवता की बात करते है l विविधता में एकता ही सांप्रदायिक सद्भाव के मूल मंत्र है ।

कार्यक्रम के नोडल अधिकारी प्रो. मुराद अली ने कहा सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए लोगों को एक दूसरे के धर्म, भाषा, संस्कृति आदि से जागरूक होना चाहिए। उन्होंने छात्रों से अपील किया कि वे सांप्रदायिक सद्भाव सप्ताह में बढ़ चढ़कर के अनेक प्रतियोगिता में भाग ले। कार्यक्रम का संचालन प्रांकुर शुक्ला एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ सैफुल हक ने किया।

इस अवसर पर प्रो मानस पांडेय, प्रो. वी. डी. शर्मा, सहायक कुलसाचिव अजीत सिंह, डॉ. रसिकेश, डॉ. सुनील कुमार, डॉ. दिग्विजय राठौर, डॉ. मनोज पांडेय, डॉ सुधीर उपाध्याय, डॉ. एस.पी. तिवारी, डॉ लक्ष्मी प्रसाद मौर्या, डॉ दिनेश कन्नौजिया, मोहम्मद शहाबुद्दीन, अभिनव श्रीवास्तव, अनुपम कुमार आदि उपस्थित थे।
(डॉ सुनील कुमार की रिपोर्ट)