ओपीजेएस यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर बलिया निवासी डा. राजेश कुमार पाठक को बेस्ट यंगेस्ट वाइस चांसलर 2022 के अवार्ड से किया गया सम्मानित

बांसडीह, बलिया. राजस्थान के ओपीजेएस यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर बलिया निवासी डा. राजेश कुमार पाठक को बेस्ट यंगेस्ट वाइस चांसलर 2022 के अवार्ड से सम्मानित किया गया है । डा. राजेश कुमार पाठक को ये सम्मान टोपनोच टेक्नोलॉजी(मुंबई) द्वारा गठित देश के शिक्षाविदों और बुद्धिजीविओं की कमेटी ने दिया। यह अवार्ड पाठक को शिक्षा के क्षेत्र में लगातार उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया गया हैं।

 

डा. राजेश कुमार पाठक का जन्म उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के पठखौली गांव में हुआ था। बचपन से ही उन्होने कठिन परिश्रम और ईमानदारी से समाज में शिक्षा के क्षेत्र में कुछ ईमानदार पहल करने की ठानी। जिसके चलते 22 सालों की ईमानदारी और कठिन प्रयासों ये वो शिक्षा के अमूल चूक परिवर्तन करने में सहायक बने।

अपने करियर के दौरान डा पाठक ने कई शैक्षणिक संस्थाओ में एडवाइज़र, डायरेक्टर, डायरेक्टर जनरल,कैम्पस डायरेक्टर, प्रो वाइस चांसलर, जैसे उच्च पदों पर अपनी सेवाएं दे चुके है।

 

छत्तीसगढ़ के श्री रावतपुरा सरकार विश्वविद्यालय में सबसे कम उम्र के वाइस चांसलर के रूप में डा पाठक के उत्कृष्ट प्रशासनिक और शैक्षणिक क्षमता एंव उच्च शोध कार्य का अवलोकन के उपरांत बेस्ट यंगेस्ट वाइस चांसलर अवार्ड 2022 से सम्मानित किया गया है।

 

इससे पहले भी उन्हें कई सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है।वही जब डॉ पाठक से उनकी इस सफलता के इसके बारे में पूछा गया तो उन्होने इसका श्रेय अपने माता-पिता ,परिवार के सदस्य और दोस्तों तो दिया। उन्होने कहा कि माता-पिता, परिवार के सदस्य और दोस्तों का अटूट विश्वास और प्रोत्साहन हमेशा उनको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता रहा है।

(बांसडीह संवाददाता रवि शंकर पाण्डेय की रिपोर्ट)