दशहरा त्योहार को लेकर जिलाधिकारी ने ली शांति समिति की बैठक

बलिया. जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने नवरात्री और आने वाले त्योहारों को लेकर अधिकारियों और आयोजकों के साथ बैठक की. बैठक का उद्देश्य त्योहारों को शांतिपूर्वक मनाये जाने की तैयारियों पर चर्चा करना था.

जिलाधिकारी ने आयोजकों से कहा कि सभी आयोजक अपने पंडालों में जहां पर भी मूर्ति स्थापित करते हैं वहां पर साफ सफाई की व्यवस्था रखें. अपने वालंटियर नियुक्त करें जिससे कि किसी प्रकार की अव्यवस्था ना हो. साथ ही विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि पंडालों में विद्युत आपूर्ति करते समय इस बात का ध्यान रखें कि कहीं भी तार कटे-फटे ना हो क्योंकि इससे शॉर्ट सर्किट होने का खतरा होता है जिससे पंडालों में आग भी लग सकती है. उन्होंने आयोजकों से कहा कि अपने पंडालों में पानी, बालू और अग्निशमन की गाड़ियों की व्यवस्था रखें.

 

त्योहारों के संबंध में पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर ने आयोजकों से कहा कि आप सभी लोग अपने मूर्ति स्थापना के समय से लेकर उसके विसर्जन के होने तक पूरी तरह सतर्क रहें. क्योंकि इसी समय अराजक तत्व किसी भी तरह की गड़बड़ी कर सकते हैं जिससे अव्यवस्था फैलने का खतरा रहता है. साथ ही किसी को मूर्ति स्थापना के स्थल पर या ऐसी किसी भी जगह पर किसी को मदिरापान करते हुए पाए तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस को दें. सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों से सतर्क रहें और बिना किसी जांच-पड़ताल के किसी भी वीडियो या समाचार को न वायरल करें. उन्होंने कहा कि विसर्जन के समय रास्तों को चिन्हित कर दिया जाएगा. उन्हीं रास्तों पर विसर्जन के लिए जुलूस निकलेगा. विसर्जन के समय डीजे बजाते समय इस बात का ध्यान रखें कि अराजक तत्व इस भीड़ में मदिरापान कर के प्रवेश ना करें. जिससे किसी प्रकार की अव्यवस्था ना फैले.

इस बैठक में सीडीओ प्रवीण वर्मा,अपर पुलिस अधीक्षक दुर्गा प्रसाद तिवारी, एडीएम राजेश सिंह के अतिरिक्त नगर मजिस्ट्रेट और सीओ नगर भी उपस्थित थी.

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट)