रामलीला मैदान में रामलीला मंचन का शुभारंभ मुख्य अतिथि अजय शंकर पाण्डेय”कनक” ने फीता काट कर किया

रेवती, बलिया. नगर के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में सोमवार की देर सायं रामलीला मंचन का शुभारंभ मुख्य अतिथि नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि अजय शंकर पाण्डेय”कनक” ने फीता काटने के पश्चात दीप प्रज्ज्वलित कर भगवान विष्णु व माता लक्ष्मी की आरती एवं भोग लगाकर किया.

 

मुख्य अतिथि कनक ने कहा कि रामलीला बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश देती है. कहा कि भगवान राम ने मानव जीवन में अच्छे कार्यों को करते हुए मर्यादा पुरुषोत्तम कहलाए. उन्होंने कहा कि हमें अपने कर्तव्य मार्ग पर अडिग रहना चाहिए. इसके साथ ही हमारे मन में परोपकार की भावना होनी चाहिए.

 

इससे पूर्व ‘ॐ जय जगदीश हरे’ द्वारा भगवान विष्णु एवं माता लक्ष्मी आरती के साथ शुरू हुई रामलीला के पहले दिन सील नदी के राजा की पुत्री विश्व मोहिनी के स्वयंवर में नारद मोह का सजीव मंचन किया गया. नारद जी को यह मद हो गया कि काम तथा क्रोध पर उन्होंने विजय प्राप्त कर लिया. भगवान अपने भक्त को सही मार्ग पर लाने के लिए विश्वमोहिनी का रूप धारण कर उनके मद को भंग किया. इससे पूर्व रामलीला कमेटी के संरक्षक कुंदन पाण्डेय द्वारा मुख्य अतिथि को माल्यार्पण कर अंगवस्त्रम के साथ सम्मानित किया गया.

इस अवसर पर कमेटी के अध्यक्ष राजू पाण्डेय, गोलू पटेल, विवेकानंद पाण्डेय, मुरली पाण्डेय, भोलू ओझा, जीतू पटेल, आदि.

 

रामलीला मंचन रात्रि 8 बजे से 12 बजे तक प्रतिदिन

सोमवार की देर शाम रामलीला मंचन बदले स्वरुप में आधुनिक साज सज्जा से परिपूर्ण शुरु हुआ. रामलीला मंचन के पहले ही दिन दर्शकों की भारी भीड़ रही. कमेटी द्वारा दर्शकों की सुविधा को ध्यान रखते हुए भव्य पांडाल में बैठने आदि की समुचित व्यवस्था की गयी थी. महिलाओं तथा पुरूषों के लिए अलग-अलग व्यवस्था थी. कमेटी के अध्यक्ष भानु प्रकाश उर्फ राजू पाण्डेय ने बताया कि रामलीला मंचन रात्रि 8 बजे से 12 बजे तक प्रतिदिन होगा.

 

(रेवती संवाददाता पुष्पेन्द्र तिवारी’सिंधू’की रिपोर्ट)