डेढ़ साल बीत जाने के बाद भी सड़क का निर्माण कार्य अधूरा, जनता में भारी आक्रोश

बेल्थरारोड, बलिया. तहसील क्षेत्र के चौकिया मोड़ से तेंदुआ ग्रामसभा मुख्य राजमार्ग की सड़क गड्ढे में तब्दील हो गई थी. डेढ़ वर्ष पहले इसका शिलान्यास लोकसभा सांसद रविंद्र कुशवाहा, क्षेत्रीय पूर्व विधायक धनंजय कनौजिया, द्वारा कराया जा चुका है.

 

सड़क के शिलान्यास हो जाने के बाद लोगों में मन में एक उम्मीद की किरण जग गई कि चलो देर से ही पर सही ठेकेदार के पास या टेंडर गया है. अब छात्र शक्ति कंस्ट्रक्शन द्वारा इस मार्ग का निर्माण अच्छा से अच्छा और जल्द से जल्द हो जाएगा. लेकिन डेढ़ साल बीत जाने के बाद भी इस सड़क का निर्माण कार्य छात्र शक्ति कंट्रक्शन द्वारा पूरा नहीं हो सका जिसको लेकर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों पर आम जनों का भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है.

आपको बता दें कि मधुबन ढाला से चौकिया मोड़ अंतिम लेयर छोड़कर पिचिंग कार्य किया जा चुका है. दो महीने से कार्य बंद है. मधुबन ढाला से तेंदुआ ग्राम सभा तक सड़क पर मिट्टी और गिट्टी डाल छोड़ देने से इस सड़क से आने जाने वाले लोगों को हमेशा जान का खतरा बना रहता है. कुछ लोग तो बाइक लेकर फिसल कर गिर जाते हैं. बाइक चालक व पैदल चलने वाले लोगों को चार पहिया वाहन से झटक कर पत्थर लग जाने से चोटिल हो जाते हैं. उस मार्ग के आस-पड़ोस रहने वाले लोगों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. तो वहीं सड़क पर से उड़ने वाली धूल मिट्टी के कारण लोग इस रास्ते से आने में भी कतरा रहे हैं. सड़क पर मिट्टी गिट्टी डाल छोड़ देने से तेज रफ्तार चार पहिया वाहन से झटक कर पत्थर बाइक एवं पैदल चलने वाले राहगीरों को लग जा रहा है. जिससे आय दिन लोग चोटिल हो रहे हैं. जिसको लेकर किसान यूनियन मोर्चा के सदस्य ओम प्रकाश गुप्ता ने एसडीएम राजेश कुमार गुप्ता को एक पत्र लिखकर जल्द से जल्द काम कराने की मांग की गई. तो वहीं पूर्व प्रधान प्रतिनिधि अंगद यादव व क्षेत्र पंचायत सदस्य रामाश्रय उर्फ फाइटर द्वारा बताया गया.

 

इस रोड से उड़ने वाली धूल मिट्टी लोग को संक्रमित और टीवी जैसे भयंकर बीमारियों का भी शिकार हो रहे हैं. समय रहते प्रशासन अगर मार्ग के निर्माण नहीं कराता है. तो आने वाले समय में ग्रामीण उग्र होकर अनशन पर भी उतर सकते हैं.

(बेल्थरारोड संवाददाता उमेश गुप्ता की रिपोर्ट)