फर्जी रिपोर्ट लगाकर शिकायत निस्तारित करना लेखपाल को पड़ा भारी, किया सस्पेंड

विशुनपुरा गांव में अवैध कब्जे की शिकायत में लगाई थी गलत रिपोर्ट

डीएम के सख्त रुख के बाद एसडीएम ने किया लेखपाल अक्षय कुमार सिंह को सस्पेंड

बलिया. जनशिकायतों के समाधान करने में गलत रिपोर्ट लगाकर निस्तारित करने वालों पर जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने सख्त रुख अख्तियार करना शुरू कर दिया है. सदर तहसील क्षेत्र के विशुनपुरा गांव के लेखपाल अक्षय कुमार सिंह को गलत रिपोर्ट लगाने पर गुरुवार को निलंबित कर दिया है. एसडीएम सदर जुनैद अहमद ने गुरुवार को यह कार्रवाई की.

 

 

दरअसल, गांव के ही संजीत कुमार तिवारी ने शिकायत की थी कि ग्राम सभा व पंचायत भवन की जमीन पर मुन्ना गोंड ने अवैध कब्जा किया है. इसके बाद लेखपाल अक्षय कुमार सिंह को अवैध कब्जा हटवाने को निर्देशित किया.

 

लेखपाल ने जांच के बाद यह रिपोर्ट लगाया कि ग्राम सभा व पंचायत भवन की जमीन अतिक्रमण मुक्त है. इसके बाद इस मामले की जांच डिप्टी कलेक्टर इंद्रभान तिवारी से भी कराई गई तो पंचायत भवन की जमीन पर मवेशी बांधकर कब्जा बना हुआ पाया गया.

 

इस प्रकार लेखपाल की रिपोर्ट व आईजीआरएस पोर्टल पर शिकायत का निस्तारण फर्जी निकला। इस गम्भीर लापरवाही पर जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल के सख्त रूख के बाद एसडीएम जुनैद अहमद ने लेखपाल को निलंबित कर दिया.

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट)