सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति का दो थानों के बीच फंसा मामला, एफ आई आर दर्ज नहीं

बलिया/ बांसडीह. बांसडीह कोतवाली में मैरीटार निवासी शिवजी राजभर पुत्र गनपति राजभर ने गुरुवार को तहरीर दी है कि मेरे पिता गनपति राजभर मंगलवार को सायं बघौता चट्टी पर सड़क के बाईं तरफ खड़े थे.

इसी बीच बाइक पर दो सवार तेज रफ्तार से बलिया से आ रहे थे. उन लोगों की असंतुलित बाइक ने खड़े पिताजी को जोरदार टक्कर मार दी. बाइक संख्या यूपी 60w/ 2913 थी. पिताजी को गिरकर छटपटाते देख आसपास के लोग इकट्ठा हुए और उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया. उनका पैर टूट गया है और सिर में गंभीर चोटें हैं. उन्हें जिला चिकित्सालय में इलाज के लिए भर्ती कराया गया, जहां चिकित्सकों ने स्थिति को गंभीर देखते हुए वाराणसी के लिए रेफर कर दिया है.

 

इसके बाद मामला पेचिदा हो गया है. बांसडीह थाना कह रहा है कि मामला बांसडीह रोड का है और बांसडीह रोड कह रहा है कि मैं जांच करुंगा. प्रार्थी सुबह से परेशान है, उसे समझ नहीं आ रहा है कि प्राथमिकी किस थाने में दर्ज होगी. इधर प्रार्थी के परिजन की हालत गंभीर हो गई है. जिला अस्पताल ने बी एच यू ट्रामा सेंटर वाराणसी के लिए रेफर कर दिया है. प्रार्थी को समक्ष नहीं आ रहा है कि वो प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए थाने का चक्कर काटे या अपने मरीज को देखे जिसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है.

(बलिया से केके पाठक की रिपोर्ट)

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.