प्रदेश में अराजकता का माहौल है कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है महंगाई बेरोजगारी चरम पर- अंबिका चौधरी

बलिया. फेफना विधानसभा के सपा कार्यकर्ताओं की बैठक सोमवार को पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी के कपूरी आवास पर संपन्न हुई जिसमें 2022 के लिए अभी से जुट जाने के लिए आह्वान किया गया. फेफना विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उमाशंकर चौधरी के निधन पर 2 मिनट का मौन धारण कर उनको श्रद्धांजलि दी गई. सपा की यह बैठक लंबे अंतराल के बाद हुई जिसमें हजारों की संख्या में कार्यकर्ता जुटे.

 

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी ने कहा कि प्रदेश में अराजकता का माहौल है कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है महंगाई बेरोजगारी चरम पर है. केंद्र व प्रदेश सरकार केवल झूठ का सहारा ले रही है विकास के नाम पर कहीं कुछ हो नहीं रहा है. 2022 में अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाना है इस उद्देश्य के साथ मैं सपा में आया हूं मैं टिकट की लाइन में नहीं हूं मेरा प्रयास यही है कि सपा के लिए कार्य करूं. यदि किसी कार्यकर्ता के साथ ज्यादती हुई है तो सरकार बनने के बाद उसका भी हिसाब किया जाएगा. साल 2022 की तैयारी में अभी से सभी कार्यकर्ता जुट जाएं जो भी सपा का प्रत्याशी आएगा एकजुटता के साथ उसका साथ दिया जाएगा.

कार्यक्रम की अध्यक्षता कुबेर नाथ तिवारी एवं संचालन रामप्रवेश यादव ने किया इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष आनंद चौधरी जिला पंचायत सदस्य वीर लाल यादव, विनोद, विनायक मौर्य, रामायण सिंह, विधानसभा अध्यक्ष दिनेश यादव, जयपाल, गोविंद जी, बिजली यादव, कृष्णानंद राय, अनिल राय आदि लोग उपस्थित रहे.

( संवाददाता विश्वंभर प्रसाद की रिपोर्ट)