सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ में गिरफ्तार किये जाने की सूचना से पार्टी कार्यकर्ताओं में आक्रोश

बलिया.लखीमपुर खीरी में अपराधियों द्वारा किसानों की हत्या किए जाने के खिलाफ और मृत किसानों के परिजनों से मिलने जा रहे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ में गिरफ्तार किये जाने की सूचना मिलते ही समाजवादियों में आक्रोश भड़क गया और सैकड़ों की संख्या में समाजवादी पार्टी के पदाधिकारी, कार्यकर्ता उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता रामगोविन्द चौधरी और जिला अध्यक्ष राजमंगल यादव के नेतृत्व में जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंच कर धरना दिया.

धरनारत समाजवादियों ने लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या में सम्मलित दोषियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की. साथ ही वर्तमान मुख्यमंत्री को बर्खास्त करने की भी मांग की.

प्रेस विज्ञप्ति

धरनारत समाजवादियों को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी ने कहा कि सत्ता में बैठे लोग सत्ता में बने रहने के लिए किसानों के खून से नहा रहे हैं. पिछले 10 माह से आंदोलन कर रहे किसानों को हत्या करके नहीं डराया जा सकता. लखीमपुर खीरी के घटना की जितनी निंदा किया जाय वह कम है. समाजवादी पार्टी पूरी तरह से किसानों के साथ कल भी खड़ी थी आज भी है और आगे भी रहेगी. वर्तमान भाजपा सरकार तीन नए कृषि कानून ला कर किसानों के पैरों में जंजीर डालना चाह रही है और पूंजीपतियों के तिजोरी को भरना चाहती है जिसे किसी भी कीमत पर वर्दाश्त नही किया जाएगा.

इस अवसर पर मंजू सिंह, सुभाष यादव, लक्ष्मण गुप्ता, यशपाल सिंह, सुशील पाण्डेय”कान्हजी”, वंशीधर यादव, साथी रामजी गुप्ता, जमाल आलम, अजय यादव, शशिकान्त चतुर्वेदी, कामेश्वर सिंह, शेख अहमद अली संजय भाई, अकमल नईम खा मुन्ना, अजीत मिश्र, ज्ञानेंद्र राय गुड्डू, राजेश गोंड़, प्रभुनाथ यादव, आशुतोष ओझा, जलालुद्दीन जे. डी, अमित दुबे, मंटु साहनी, रामेश्वर पासवान, विकेश सिंह सोनू, रविन्द्र नाथ यादव, विजय बहादुर यादव, सुनील पिंटू, शिवजी चंदेल, अनिल तिवारी, मंटु दुबे, रिशु श्रीवास्तव, बरमेश्वर प्रधान, धनजी यादव, विशाल कनौजिया, हरदयाल कमलेश यादव, वलीउल्लाह, गणेश यादव, जगमोहन विन्द, अमित राय आदि लोग उपस्थित रहे. अध्यक्षता राजमंगल यादव संचालन राजन कनौजिया ने किया.