जिस पर भरोसा किया वही निकला मास्टरमाइंड! बांसडीह लूट का खुलासा, 6.50 लाख बरामद

बांसडीह, बलिया. बांसडीह थाना के पिंडहरा गांव के पास स्थित पेट्रोल पंप लूट की घटना का एसपी डॉ. विपिन ताडा ने खुलासा कर दिया है. एसपी के अनुसार 22 जुलाई की शाम को 8 लाख 88 हजार रुपए की लूट हुई थी जो लूट नहीं बल्कि पेट्रोल पंप के मैनेजर संजय गोंड़ की ही साजिश थी, वही मुख्य सूत्रधार था. इतना ही नहीं इन लाखों रुपयों का पहले ही आपस में बंटवारा हो गया था.


एसपी डॉ ताडा ने बताया कि 5 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. 6 लाख 50 हजार बरामद भी हुआ है. शेष दो लोग अभी फरार हैं जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.


इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बलिया पुलिस ने बताया कि दिनांक 23.07.2021 को पिंडहरा के पास स्थित एस्सार पेट्रोल पम्प के मालिक वादी शम्भू प्रसाद गुप्ता निवासी सुखपुरा के मैनेजर संजय कुमार गोंड़ द्वारा बैंक में पैसा जमा करने जाते समय अज्ञात मोटर साइकिल सवार व्यक्तियों द्वारा मैनेजर से पैसे लूट लेने के संबन्ध में अभियोग थाना बांसडीह पर पंजीकृत कराया गया था.
घटना की गम्भीरता को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक बलिया डॉ. विपिन ताडा ने घटना स्थल का तत्काल निरीक्षण करते हुए थाना प्रभारी बांसडीह एवं SOG टीम को घटना का खुलासा करते हुए अभियुक्तों की गिरफ्तारी एवं लूटे हुए पैसों की बरामदगी के लिए निर्देशित किया था.


जांच के लिए गठित टीमों द्वारा धरातलीय एवं इलेक्ट्रानिक सूचनाओं के संकलन के पश्चात क्षेत्राधिकारी बांसडीह के नेतृत्व में थाना प्रभारी बांसडीह की जांच में प्रकाश में आया कि वादी मुकदमा शम्भू प्रसाद गुप्ता का पेट्रोल पम्प मैनेजर संजय गोंड़ ही घटना का साजिशकर्ता व मुख्य सूत्रधार है.


पुलिस के मुताबिक मैनेजर संजय गोंड़ ने अपने साथी लालकेश्वर यादव, पिन्टू मिश्रा, सोनू गोंड़, धनजी बिन्द, अवधेश यादव के साथ योजना बद्ध तरीके से पैसा जमा करने जाते समय अपने सहअभियुक्तों को दे दिया और घायल होने तथा लूट की घटना का झूठा नाटक किया कि अज्ञात बदमाशों द्वारा पैसा लूट लिया गया है.


पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त की निशानदेही पर 6,50,000/-रू0 की बरामदगी की गयी एवं 5 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया . अभियुक्त/मैनेजर संजय गोंड़ ने बताया कि वह एस्सार पेट्रोल पम्प पर पिछले 4-5 वर्षों से काम कर रहा था, उसने कुछ लोगो से कर्ज ले लिया था जिसे चुकता करने व मकान का कार्य कराने हेतु उसकी नीयत खराब हो गयी तथा उसने अपने साथियों के साथ मिलकर योजना बद्ध तरीके से इस झूठी घटना को अंजाम दिया .

(बांसडीह से रविशंकर पांडेय की रिपोर्ट)

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.