बिना नंबर के ट्रकों से लाल बालू का धंधा धड़ल्ले से जारी, डीएम का आदेश भी नहीं मान रहे

बैरिया, बलिया. पिछले दिनों डेरा चकिया में हुए भयानक हादसे के बाद भी बिहार से लाल बालू लेकर बिना नंबर वाले ट्रकों का आना जारी है. रोजाना सैकड़ों की संख्या में ऐसे ट्रक बिहार के कोईलवर से जय प्रभा सेतु के जरिए लाल बालू लेकर आ रहे हैं.
जिलाधिकारी ने मांझी घाट पर बिहार से लाल बालू लेकर आने वाले ट्रकों से जीएसटी वसूलने के लिए चेक पोस्ट स्थापित करने के आदेश दिए थे लेकिन खनिज विभाग इस पर अमल नहीं कर रहा है, नतीजे में लाखों रुपए के राजस्व का रोजाना नुकसान हो रहा है.
लोगों का कहना है की एक ट्रक पर लगभग 900 रुपये जीएसटी लगेगा और इसके बाद वह लाल बालू वैध तरीके से आएगा लेकिन ऐसा होने पर कई विभागों के अधिकारियों को होने वाली अवैध कमाई बंद हो जाएगी, इसीलिए अभी तक चेक पोस्ट की स्थापना माझी में नहीं की गई है.
बिना नंबर के चलने वाले इन ट्रकों से हादसे भी हो रहे हैं. पिछले दिनों डेरा चकिया में बालू उतारने के बाद वापस लौट रहे बेलगाम ट्रक ने करीब एक दर्जन लोगों को कुचल दिया था. इस घटना में मां-बेटे की मौत भी हो गई थी.
क्षेत्र में इस तरह से गैरकानूनी तरीके से लाल बालू के कारोबार पर कई बार सवाल उठाए गए हैं लेकिन प्रशासन की तरफ कोई कार्रवाई नहीं दिखी है. इस बारे में पूछने पर बैरिया उप जिलाधिकारी प्रशांत कुमार नायक ने बताया कि पुलिस विभाग व खनन विभाग को इस बाबत उचित दिशा निर्देश दिए गए हैं. जल्दी लाल बालू की तिजारत पर रोक लगेगा. माझी घाट पर जल्दी चेक पोस्ट बनेगा इसके लिए औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं.
(बैरिया से वीरेंद्र मिश्र की रिपोर्ट)

This item is sponsored by Maa Gayatri Enterprises, Bairia : 99350 81969, 9918514777

यहां विज्ञापन देने के लिए फॉर्म भर कर SUBMIT करें. हम आप से संपर्क कर लेंगे.