शिक्षा व कौशल के जरिए किन्नर समाज को मुख्य धारा से जोड़ा जाएगा

डीएम शाही ने कहा कि प्रयास है कि पहले किन्नर समुदाय की दिक्कतों को नजदीक से जाना जाए और उसको दूर करने का हरसम्भव प्रयास किया जाए.

बलिया, जिलाधिकारी एसपी शाही ने गुरुवार को किन्नर समाज के लोगों के साथ बैठक की. समाज की मुख्यधारा से उनको जोड़ा जा सके, इसी उद्देश्य से यह बैठक हुई. जिला जेल के सामने स्थित पुराने मॉन्टेसरी जूनियर हाईस्कूल परिसर में जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए किन्नर समाज के लोगों ने अपने सुझाव दिए.
डीएम शाही ने कहा, इसमें कोई संदेह नहीं कि किन्नर समाज की तमाम दिक्कतें हैं, इसीलिए हमारा प्रयास है कि पहले किन्नर समुदाय की दिक्कतों को नजदीक से जाना जाए और उसको दूर करने का हरसम्भव प्रयास किया जाए. फिलहाल शिक्षा व कौशल विकास पर फोकस करके इसकी शुरुआत की जा रही है.
उन्होंने कहा कि हम भी चाहते हैं कि आप सब समाज की मुख्यधारा से जुड़े. उन्होंने कहा कि नौजवान किन्नर में अगर किसी विशेष क्षेत्र में कुशलता है तो उस क्षेत्र में भी ट्रेंड करने के लिए व्यवस्था की जाएगी. सरकारी योजनाओं से हर पात्र को जोड़ा जाएगा. जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि मतदाता सूची में हर किसी का नाम होना जरूरी है. अगर किसी का नहीं है तो वह अपने बीएलओ से सम्पर्क कर जुड़वा लें. वहां बनी कमेटी को भी यह जिम्मेदारी सौंपी.

इस दौरान सीडीओ विपिन जैन ने कहा कि किन्नर समाज की जीवन शैली को बेहतर बनाने के लिए तीन स्टेप जरूरी हैं. पहला, समुदाय की संख्या कमेटी तय कर ले. दूसरा, किन्नर समाज के बच्चों के लिए शिक्षा का वातावरण तैयार कर उन्हें शिक्षित करना है. इसके लिए बीएसए व आईटीआई के प्रधानाचार्य को गम्भीरता से पहल करने को कहा गया है. तीसरा, ट्रेनिंग दिलवाने के बाद समाज में कैसे स्थापित करें, उस पर बल दिया जाएगा.

स्वयं सहायता के जरिए कौशल का होगा सदुपयोग

सीडीओ जैन ने कहा कि अपनी कमाई में आप बचत जरूर करते हैं. ऐसे में स्वयं सहायता समूह से आपको जोड़ कर आपके कौशल का सदुपयोग किया जा सकेगा. उससे आपकी कमाई भी होगी और आपका नाम भी हर घर में होगा. आपका सिला हुआ कपड़ा स्कूली बच्चे पहनेंगे, आपका बनाया मसाला घरों में प्रयोग होगा. आपका जीवन अच्छे से चले, इसके लिए हम भी इच्छुक हैं. सीडीओ ने कहा कि अगला शहरी कैम्प यहीं लगेगा. मेडिकल चेकअप से लेकर योजनाओं से सम्बंधित पात्रता मिलने पर हर योजनाओं का लाभ दिलाने का भी प्रयास होगा.

माधुरी किन्नर ने डीएम-सीडीओ के प्रति जताया आभार

किन्नर समाज की जिलाध्यक्ष माधुरी पांडेय ने डीएम-सीडीओ का आभार जताते हुए कहा कि किन्नर समाज के लोगों की इज्जत और प्रतिष्ठा बढ़ाने की पहल की गई. ऐसा पहली बार हो रहा है. इसके लिए पूरा किन्नर समाज आभारी रहेगा. हम लोगों के सामने तमाम विकट परिस्थितियां आती हैं, ऐसे में हम लोगों की सुविधाओं जैसे किन्नर शौचालय, पढ़ाई, चिकित्सा व अन्य जरूरी सुविधाओं का ख्याल रखा जाए. हम लोगों के कार्यक्रम के लिए कोई सार्वजनिक धर्मशाला या किन्नर भवन की व्यवस्था हो, ताकि किन्नर समाज का कोई कार्यक्रम हो जाए. जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए किन्नरों ने भी अपनी बात रखी.
पढ़े-लिखे किन्नर को सरकारी सेवाओं में मिले मौका
बैठक में किन्नर अनुष्का चौबे ने कहा कि पढ़े-लिखे किन्नरों को सरकारी सेवा में जाने का मौका मिले. ऐसे ही धीरे-धीरे हम लोगों का विकास होगा. यह भी कहा कि सरकार के विभिन्न अभियान जैसे गंगा स्वच्छता, स्वच्छ भारत मिशन आदि में भी हम सब अपना योगदान देना चाहते हैं, बशर्ते मौका दिया जाए. जिलाधिकारी ने पढ़ाई लिखाई से जुड़ी जानकारी ली तो पाया कि उनमें स्नातक की डिग्री एक के पास, जबकि चार-पांच इंटरमीडिएट व करीब 10-12 हाईस्कूल पास थे. इस पर खुशी जताते हुए कहा कि निश्चित रूप से हर सकारात्मक कार्य में आवश्यकतानुसार आप लोगों का सहयोग लिया जाएगा.

कैम्प में हुई एचआईवी की जांच

इस अवसर पर एचआईवी की जांच कैंप का शुभारंभ किया गया. डीएम-सीडीओ व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में किन्नर समाज की जिलाध्यक्ष माधुरी पांडे ने फीता काटकर शुभारंभ किया. कैंप में मौजूद सभी किन्नरों का टेस्ट किया गया. साथ ही इससे बचाव से जुड़े विषय पर चर्चा भी की गई. बीएसए शिवनारायण सिंह, डीएसओ केजी पांडेय, नगर पालिका एग्जिक्यूटिव ऑफिसर दिनेश विश्वकर्मा व अन्य अधिकारी थे भी उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.