साली से बतियाने पर ले ली विवेक की जान, तीन गिरफ्तार

बलिया। नरही पुलिस व एसओजी टीम बलिया द्वारा ग्राम भरौली में विवेक चौधरी की धारदार हथियार से हत्या के मामले में तीन अभियुक्त गिरफ्तार किए गए. वहीं उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त आला कत्ल चाकू तथा एक तमंचा एवं दो जिन्दा कारतूस बरामद किया गया. पुलिस अधीक्षक बलिया द्वारा अपराध एवं अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान में नरही पुलिस व एसओजी टीम बलिया को यह सफलता प्राप्त हुई.

ग्राम भरौली में हुई हत्या के तत्काल अनावरण हेतु अपर पुलिस अधीक्षक बलिया व क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में ज्ञानेश्वर मिश्र प्रभारी निरीक्षक नरही व उ0नि0 राजकुमार सिंह प्रभारी स्वाट टीम व सर्विलांस टीम जनपद बलिया द्वारा तत्काल कार्रवाई करते हुए घटना में सम्मिलित अभियुक्तगण धनजी चौधरी पुत्र बल्ली चौधरी ग्राम भरौली थाना नरही, विजय चौधऱी पुत्र स्व0 हरिलाल चौधरी ग्राम नरवतपुर थाना मुफसिल जनपद बक्सर, बिहार तथा जितेन्द्र चौधरी पुत्र स्व0 हरिलाल चौधरी ग्राम नरवतपुर थाना मुफसिल, जनपद बक्सर, बिहार को वीर कुंवर सिंह सेतु भरौली के पास से शुक्रवार की रात्रि गिरफ्तार किया गया तथा उनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त आला कत्ल चाकू, एक तमंचा 315 बोर तथा दो जिन्दा कारतूस 315 बोर बरामद किया गया.

पूछताछ के दौरान पकड़े अभियुक्त विजय द्वारा बताया गया कि उनके बड़े भाई जितेन्द्र की शादी ग्राम भरौली में बल्ली चौधरी की पुत्री सविता चौधरी से हुई थी. भाई की ससुराल होने के कारण वह अक्सर भरौली आता -जाता था. उसकी शादी उसके भाई की साली से होनी तय थी. जिससे विवेक चौधरी टेलीफोन से बात करता था तथा व्हाट्स ऐप पर मैसेज भेजता था. वे सब विवेक चौधरी को ऐसा करने से कई बार मना किए, फिर भी वह नहीं मान रहा था.

जून के अंतिम सप्ताह में वह भरौली जाकर विवेक चौधरी के माता -पिता से भी बताया, लेकिन विवेक चौधरी नहीं माना. गत आठ जुलाई को वह अपने भाई जितेन्द्र के साथ सुबह भरौली पहुंचा. वह और उसका साला धनजी चौधरी विवेक को शिवजी चौधरी के खण्डहरनुमा मकान में बात चीत के लिए बुलाए. जितेन्द्र भी दूसरी गली से आ गया. बातचीत के दौरान विवेक चौधरी मानने को तैयार नहीं हुआ. तब उसके बड़ा भाई जितेन्द्र विवेक का दोनों पैर तथा उसके भाई के साले धनजी ने दोनों हाथ पकड़ लिया. उसने कमर में रखे चाकू से विवेक के गले पर प्रहार किया, जिससे वह मर गया. चाकू को उसी कमरे में कोने में दो छ्त्ती पर छिपा कर वे लोग धीरे से भाग गए.

पकड़े गये अभियुक्तगण के विरूद्ध थाना नरही जनपद बलिया में उचित धाराओं में अभियोग दर्ज कर उनके विरूद्ध विधिक कार्रवाई की जा रही है. गिरफ्तार करने वाले पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेश्वर मिश्र थाना नरही, उ0नि0 दिनेश पाठक थाना नरही, उ0नि0 राजकुमार सिंह प्रभारी एसओजी टीम, उ0नि0 संजय सरोज एसओजी, कांस्टेबल राहुल प्रसाद, जगजीवन, मुकेश कुमार थाना नरही सम्मिलित रहे.

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.