आकाशीय बिजली की चपेट में आए चार लोगों की मौत

बक्सर। जिले के नावानगर और कृष्णाब्रह्म में शुक्रवार को आकाशीय बिजली गिरने से दो नाबालिग सगी बहनों समेत चार लोगों की मौत हो गयी. हादसे के बाद नावानगर में आक्रोशित लोगों ने मुआवजे की मांग को लकर एनएच-30 को जाम कर दिया.

जानकारी के अनुसार, नावानगर सोनवर्षा ओपी के गिरधर बरांव गांव निवासी सोहन साह की बड़ी बेटी 16 वर्षीया गुड़िया और 10 वर्षीया संजू शुक्रवार को दोपहर करीब ढाई बजे गांव के पूरब बधार में अपने पिता और खेत में काम कर रहे मजदूरों के लिए खाना लेकर जा रहीं थीं. इसी बीच, तेज गर्जन के साथ आकाशीय बिजली गिरी और दोनों बहनें चपेट में आ गयीं. हालांकि, गांव के लोगों द्वारा दोनों को बचाने के लिए तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया. लेकिन, चिकित्सकों ने दोनों बहनों को मृत घोषित कर दिया. वहीं, सोनवर्षा ओपी के टिकपोखर गांव के बधार में रोपनी कर रही मीना देवी के ऊपर आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गयी. घटना के बाद ग्रामीणों ने एनएच-30 को टिकपोखर के पास जाम कर मुआवजे की मांग की. इधर, कृष्णा ब्रह्म थाना क्षेत्र के नुआंव में आकाशीय बिजली गिरने से एक वृद्ध की मौत हो गयी. बताया जाता है कि वृद्ध अपनी खेत में काम कर रहा था. मौसम खराब होने के कारण बादलों में गड़गड़ाहट की तेज आवाज आयी. उसी समय वृद्ध टीनू यादव पिता रामकिशन यादव ठनका की चपेट में आ गया, जिससे उसकी मौत हो गयी.

Four people killed including two minor sisters due to celestial electricity in Buxar, Bihar.

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.