शहीद के परिजनों के घर नेताओं के न पहुंचने पर जताया रोष 

शहीद के परिजनों के बीच पहुंचे मंगल पांडेय विचार मंच के पदाधिकारी
 
दुबहड़ (बलिया)। देश की रक्षा करते समय अपने प्राणों की आहुति देने वाले गड़वार थाना क्षेत्र के रामपुर असली गांव के निवासी सीआरपीएफ के जवान शहीद राजेंद्र प्रसाद के घर उनके परिजनों को सांत्वना देने के लिए मंगल पांडेय विचार मंच का प्रतिनिधिमंडल सोमवार की देर शाम उनके घर पहुंचा. प्रतिनिधिमंडल में शामिल विचार मंच के अध्यक्ष कृष्णकांत पाठक एवं सचिव अरुण गुप्ता सहित सभी सदस्यों ने शहीद के परिजनों से मुलाकात करने के बाद कहा कि किसी भी संकट की घड़ी में विचार मंच के लोग हमेशा आपके साथ खड़े हैं.
अध्यक्ष कृष्ण कान्त पाठक ने कहा कि शहीद का परिवार समुचा राष्ट्र का परिवार है. इनके परिवार के देखभाल की जिम्मेदारी हम सबकी है. उन्होंने वर्तमान राजनीति पर प्रहार करते हुए कहा कि आज जिले के कोई भी जनप्रतिनिधि शहीद के घर सांत्वना प्रकट करने के लिए भी नहीं पहुंचा, यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. कहा कि देश की रक्षा करते समय राजेंद्र ने अपने प्राणों की आहुति दे दी. वही हमारे जिले के जिम्मेदारी की बागडोर संभाल रहे सांसद और विधायकों को शहीद के परिजनों की सुध लेने के लिए समय ही नहीं है.
कहां कि राजनीति सेवा का माध्यम है. इसे व्यापार नहीं बनने देना चाहिए. जनप्रतिनिधियों को अपनी जिम्मेदारी का एहसास  होना चाहिए. नहीं तो मंगल पांडेय विचार मंच समय-समय पर आइना दिखाता रहेगा. मंगल पांडेय विचार मंच ने यह तय किया कि आगामी 29 मार्च को मंगल पाण्डेय क्रांति दिवस के मौके पर शहीद के परिजनों को वीरता सम्मान से सम्मानित किया जाएगा. इसकी जानकारी प्रवक्ता बब्बन विद्यार्थी ने दी. विद्यार्थी ने दी इस मौके पर प्रतिनिधिमंडल में रणजीत सिंह, सूर्यप्रकाश यादव, अंजनी सिंह, अजय पांडेय, अरुण सिंह, अख्तर अली, सुरेन्द्र राम आदि शामिल थे.

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.