रामपुर असली, भरथांव व मठिया लिलकर गांवों में अग्नि का तांडव

सिकंदरपुर (बलिया)। सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के भरथांव व मठिया लिलकर गांवों और गड़वार थाना क्षेत्र के रामपुर असली में बुधवार की दोपहर आग ने कहर बरपाया.

बताया जाता है कि सिंकदरपुर थाना क्षेत्र के भरथांव गांव में बुधवार को दोपहर मछली भूनते समय आग की चिंगारी से खेतों में आग लग गई. जिससे 15 किसानों के 50 बीघा क्षेत्रफल में खड़ी गेहूं की फसल जल कर राख हो गई. सूचना पाकर मौके पर पहुंचे उप जिलाधिकारी अनिल कुमार चतुर्वेदी ने पीड़ित किसानों को सरकारी सहायता दिलाने का आश्वासन दिया.

दोपहर करीब ढाई बजे गांव के कुछ लड़के ताल में मछली पकड़ कर आग पर भून रहे थे. उसी दौरान आग की एक चिंगारी उड़कर बगल में स्थित बलराम यादव के गेहूं के खेत में चली गई. जिससे उसमें आग पकड़ लिया. तेज हवा बहने के कारण आग तेजी से बगल के सोनू ठाकुर, सचिन ठाकुर, गिरीश पाठक, श्रीकांत राजभर, नरेश राजभर, वशिष्ठ पाठक, मुन्ना ठाकुर, ब्रिजा ठाकुर, शेषनाथ सुरमन, मुन्ना शिवानंद, विनोद, नगीना ठाकुर के खेतों तक फैल गया. आग देख भरथांंव सहित पास पड़ोस के गांवों के लोग तत्काल मौके पर पहुंच उसे बुझाने में लग गए. करीब 2 घंटों के अथक प्रयास के बाद लोगों ने आग पर किसी प्रकार काबू पाया, तब तक सभी किसानो का गेहूं जल कर राख हो गया. इसे भी पढ़ें – तिरनई-पलिया व खैरा निस्फी गांव के सोनाडीह मौजे में अग्नि की विनाश लीला

उधर सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के ही मठिया लिलकर गांव में बुधवार को दोपहर में बिजली के तार में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई, जिससे 3 झोपड़ियों सहित उनमें पड़े सामान जल कर नष्ट हो गए. साथ ही आग की चपेट में आकर 3 बकरियों की मौत हो गई एवं महिला सहित उसके दो बच्चे और एक बकरी बुरी तरह झुलस गई. तीनों झूलसे लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है.

गांव के राधा राजभर के झोपड़ी के ऊपर से बिजली के नंगे एलटी तार गुजरते हैं. दोपहर 12:00 बजे एक विद्युत प्रवाहित तार अचानक टूट कर उनकी झोपड़ी पर गिर गया, जिससे उसमें आग पकड़ लिया. आग तेजी से राधा के एक अन्य व बगल के जगधारी की झोपड़ी तक फैल विकराल रूप धारण कर लिया. इस दौरान एक झोपड़ी में अपने पुत्रों अंकुश (2)  व लव (1) के साथ सो रही राधा की बहू पूजा (30) आग में गिर गई, जिसने अपने बच्चों के साथ झुलसते हुए झोपड़ी से भाग कर अपना व बच्चों की जान बचाई. आग देख गांव वालों की भीड़ मौके पर इकट्ठा हो उसके बुझाने में लग गई. अथक प्रयास के बाद आग पर किसी प्रकार काबू तो पा लिया गया, तब तक तीनों झोपड़ियों व उनमें पड़े अनाज कपड़े बिस्तर चौकी तथा अन्य घरेलु सामान जल कर नष्ट हो गए. आग में गिरकर तीन बकरियों की मौत हो गई व एक बुरी तरह से झुलस गई. आग शांत होने पर तीनों झुलसे मां और बेटों को इलाज हेतु सीएचसी पहुंचाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने उन्हें सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया. 

उधर, व्हाट्स ऐप पर बलिया लाइव को भेजी गई सूचना के मुताबिक बुधवार को गड़वार थाना क्षेत्र के गांव रामपुर असली में रामजी सिंह पुत्र रामयश सिंह की 7 बीघा में लहलहाती गेहूं की फसल बुधवार को बिजली के शॉर्ट सर्किट के चलते जल कर राख हो गई.

 

 

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.