बैरिया के युवा बोले- अब जुमलेबाजी नहीं, सीधे कार्रवाई हो

बैरिया (बलिया)। उरी (कश्मीर) में बटालियन मुख्यालय पर सोए हुए सैनिकों पर हमले व 18 जवानों की शहादत की सूचना से द्वाबा के युवाओं में पाकिस्तान के प्रति गहरा आक्रोश है.

इसे भी पढ़ें – शहीद की मां और पत्नी की प्रदेश सरकार देगी पेंशन

बैरिया शहीद स्मारक पर कैंडिल जला कर उरी के शहीदों को दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि. (बलिया लाइव)
बैरिया शहीद स्मारक पर कैंडिल जला कर उरी के शहीदों को दी गई भावभीनी श्रद्धांजलि. (बलिया लाइव)

इसे भी पढ़ें – फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है, ज़िंदगी मौत से मिल रही है गले

सोमवार को देर शाम तहसील मोड़ बैरिया से काफी संख्या में द्वाबा के नौजवानों का हुजूम इकट्ठा होकर पहले पाकिस्तान का झण्डा जलाया, पाकिस्तान के प्रति आक्रोश व्यक्त करते हुए जबरजस्त नारेबाजी की. फिर कैंडिल जुलूस लेकर बैरिया बाजार होते हुए बैरिया शहीद स्मारक पर पहुंचे. वहां शहीद स्मारक पर कैंडिल जला अमर शहीदों का श्रद्धासुमन अर्पित किया.

इसे भी पढ़ें – दुबहर पहुंचा शहीद का शव, दर्शन को उमड़ा जनसैलाब

 

उरी में फिदायिनी हमले से आक्रोशित बैरिया के नौजवानों ने की पाकिस्तान के खिलाफ सीधी कार्रवाई की मांग. (फोटो- बलिया लाइव)
उरी में फिदायिनी हमले से आक्रोशित बैरिया के नौजवानों ने की पाकिस्तान के खिलाफ सीधी कार्रवाई की मांग. (फोटो- बलिया लाइव)

इसे भी पढ़ें – भड़सर गंगा घाट पर होगी शहीद राजेश की अंत्येष्टि

युवाओं के आक्रोश का अन्दाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पठानकोट के बाद उरी और कई बार पाकिस्तान अपनी स्थिति और विचार तो स्पष्ट कर रहा है, लेकिन हमने जिसे अपने देश की जिम्मेदारी सौंपी है वह निन्दा, कड़ी निन्दा, उससे कठोर निन्दा, सबसे कठोर निन्दा आदि शब्दों का प्रयोग कर देश की जनता को अपने तथाकथित सहनशीलता से युवाओं को लज्जित कर रहे हैं. अब आर या फिर पार होना चाहिये.

इसे भी पढ़िए – जानिए किसके चलते नहीं आ रहे अच्छे दिन

बैरिया की फिजाओं में गूंजा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे
बैरिया की फिजाओं में गूंजा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

इसे भी पढ़ें – महंगा पड़ा ईयर फोन लगा कर रेलवे ट्रैक पर शौच करना

शहीद स्मारक पर युवाओं के गगन भेदी नारों से इलाका गूंज उठा. राह से गुजरने वाले लोग भी ठहर कर युवाओं के साथ होते गए. युवाओं ने पाकिस्तान पर जुमलेबाजी नही सीधी कार्रवाई की मांग की. कैंडिल मार्च व श्रद्धांजलि सभा का नेतृत्व दुर्गविजय सिंह झलन ने किया. इसमें पंकज उपाध्याय निखिल, नीरज सिंह, सौरभ, अजीत, प्रिंस, अुन्नू, धनन्जय, अनु, राजन, छोटू आदि सैकड़ों युवा मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें – सिसवार कला में चला स्वच्छता अभियान

 

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.