3 August, 2021

अनुपस्थित मिले 18 शिक्षक, बीएसए ने चलायी वेतन पर कैंची

परिषदीय विद्यालयों के औचक निरीक्षण में निकले खण्ड शिक्षा अधिकारियों को सम्बंधित क्षेत्रों में डेढ़ दर्जन शिक्षकों नदारद मिले. इनकी रिपोर्ट के आधार पर बीएसए डॉ़. राकेश सिंह ने अनुपस्थित शिक्षकों का एक दिन का वेतन काटते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है.

अखार के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में केक काटकर बच्चे का जन्मदिन मनाते बीएसए

बलिया। परिषदीय विद्यालयों के औचक निरीक्षण में निकले खण्ड शिक्षा अधिकारियों को सम्बंधित क्षेत्रों में डेढ़ दर्जन शिक्षकों नदारद मिले. इनकी रिपोर्ट के आधार पर बीएसए डॉ़. राकेश सिंह ने अनुपस्थित शिक्षकों का एक दिन का वेतन काटते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है.

इसे भी पढ़ें – स्थानांतरित शिक्षकों से स्कूल का विकल्प लिया जाएगा

बीएसए के निर्देश पर शुक्रवार को दुबहर व बांसडीह क्षेत्र के स्कूलों की जांच-पड़ताल की गयी. बीईओ ओमप्रकाश दूबे ने कुल नौ विद्यालयों के निरीक्षण के दौरान प्रावि आमघाट की प्रधानाध्यापिका मीरा श्रीवास्तव व प्रावि मझौली चौहान बस्ती की प्रधानाध्यापिका कुंती देवी को अनुपस्थित पाया. वहीं, बीईओ धर्मेन्द्र कुमार ने निरीक्षण के दौरान उच्च प्रावि सनाथ पांडेय के छपरा पर तैनात दो शिक्षिकाओं तव्बसुम निशा व दमयंती सिंह, उप्रावि ओझवलिया के शहीद अख्तर तथा प्रावि रामपुर माफी की शिक्षिका योगमाया को अनुपस्थित पाया.

इसे भी पढ़ें  – बेहतरीन उपलब्धि के लिए 25 शिक्षक सम्मानित

बीईओ अवधेश कुमार राय की जांच में उप्रावि बसरिकापुर की शिक्षिका रेनू मिश्रा, सावित्री वर्मा व रफत फरहाना खानम नदारद मिलीं. प्रावि दवनी का निरीक्षण करने पहुंचे बीईओ हेमंत कुमार मिश्र को सहायक अध्यापक राजेश सिंह व अध्यापिका अंजली सिंह विद्यालय में मौजूद नहीं मिली. बीईओ सुनील कुमार की जांच में उप्रावि समरथपाह के सत्यमित्र तथा कस्तुरबा गांधी विद्यालय बेलहरी पर तैनात कल्पना यादव, रिंकी, सुशील सिंह, निलाम्बुज सिंह, राजमुनी मसीह गैरहाजिर मिली. वहीं, उप्रावि समरथपाह के शिक्षक आनंद प्रकाश सिंह हस्ताक्षर बनाकर नदारद थे. बीईओ मोतीचन्द के निरीक्षण में प्रावि सपहां पर तैनात अध्यापिका नीरू मिश्रा द्वारा 11.45 पर ही विद्यालय बंद करते पाया गया.

इसे भी पढ़ें – 326 शिक्षकों को बीएसए ने दिया नियुक्ति पत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.