लाइफ मंत्रा

दादी प्रकाशमणि ने विश्व को ज्ञान से किया प्रकाशित – ब्रम्हा कुमारी उमा बहन

हरपुर में प्रजा पिता ब्रह्मा कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय में मनाया गया स्मृति दिवस

विश्व आदिवासी दिवस पर विशेषः एक निष्काम कर्मयोगी – त्रिलोकी नाथ सिनहा

बलिया के सिकंदरपुर स्थित गांधी इंटर कॉलेज में भी उन्होंने बतौर शिक्षक अपनी सेवाएं दी. उन्हीं की बदौलत वहां शाखाएं लगनी शुरू हुईं.

महर्षि वाल्‍मीकि, माता सीता और कुश से जुड़ते हैं छितेश्वरनाथ मंदिर के कनेक्शन

बलिया की धरा देवी देवता ऋषियों मुनियों की बदौलत जानी जाती है. जी हां, बात कर रहे है शंकर महादेव के मंदिरों की. वैसे तो हर शिवालयों का अलग ही महत्व है.

रितेश पांडेय का कांवर गीत ‘मेरा भोला है भंडारी’ ने मचाया धमाल

रितेश बोले, नंदी की सवारी करने वाले मेरे आराध्‍य देव सबकी दुख हरते हैं और दुनिया में आये कोरोना से भी बाबा निजात दिलायेंगे.